logo
Breaking

CG Budget 2019: किसान नेताओं ने कहा- छत्तीसगढ़िया मुख्यमंत्री बनने का फायदा मिला, कर्मचारी संघ ने कहा- गरु समझकर डंडा मारा

वित्त मंत्री के तौर पर प्रदेश मुखिया भूपेश बघेल ने आज अपना पहला बजट पेश किया। मुख्यमंत्री भूपेश के बजट पेश किए जाने के बाद हर वर्ग से प्रतिक्रियाएं भी आनी शुरू हो गई हैं एक जहां इसे लेकर किसानों ने खुशी जाहिर की है वहीं प्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ ने निराशा जनक कहा है।

CG Budget 2019: किसान नेताओं ने कहा- छत्तीसगढ़िया मुख्यमंत्री बनने का फायदा मिला, कर्मचारी संघ ने कहा- गरु समझकर डंडा मारा
रायपुर। वित्त मंत्री के तौर पर प्रदेश मुखिया भूपेश बघेल ने आज अपना पहला बजट पेश किया। मुख्यमंत्री भूपेश के बजट पेश किए जाने के बाद हर वर्ग से प्रतिक्रियाएं भी आनी शुरू हो गई हैं एक जहां इसे लेकर किसानों ने खुशी जाहिर की है वहीं प्रदेश तृतीय वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ ने निराशा जनक कहा है।
श्री बघेल के बजट को लेकर किसान नेता संकेत ठाकुर कहा है कि पहली बार ऐसा लग रहा है यह बजट किसानों और गांवों वालों का बजट है। छत्तीसगढ़ को छत्तीसगढ़िया मुख्यमंत्री बनने का फायदा मिल रहा है। वहीं प्रदेश तृतीस वर्ग शासकीय कर्मचारी संघ के प्रांतीय प्रवक्ता विजय कुमार झा ने कहा सरकार गरुआ, नरुआ, घुरुआ बारी की बात करती है, लेकिन यहां तो हमें गरु समझकर डंडा मारा गया है।
प्रवक्त विजय ने कहा हमें उम्मीद थी कि बजट में कर्मचारियों के लिए कुछ तो होगा। कम से कम महंगाई भत्ता ही दे देना था। बजट में न सातवें वेतनमान के एरियर्स का जिक्र है न चार स्तरीय पदोन्नति का। उन्होंने कहा केंद्र और राज्य केवल किसानों की बदौलत सकरार बनाने की बात सोचती है। हम किसानों का समर्थन करते हैं लेकिन इस तहर कर्मचारियों को दरकिनार करना कहा तक सही है।
किसान नेता संकेत ठाकुर ने कहा, सरकार में अब ऐसे लोग पहुंच गए हैं, जो किसानों और गांव की चिंता कर रहे हैं। 18 सालों में पहली बार किसानों पर केंद्रित बजट था, वादों का पिटारा नहीं। दो महत्वपूर्ण ऐलान हुए हैं, पहला किसानों का कर्ज माफ और दूसरा फसल का समर्थन मूल्य। भले ही केंद्र से किसानों को कुछ नहीं मिला। लेकिन इस सरकार ने घोषणा करके खरीदी का वादा पूरा किया है, अब किसानों के अच्छे दिन आएंगे।
Share it
Top