logo
Breaking

छत्तीसगढ़ विधानसभा के नए तेवर, जाेगी के लिए अलग सीट- जानें कहां बैठेंगे भाजपा के विधायक

छत्तीसगढ़ में चुनाव के बाद अब नए विधानसभा के गठन की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गई है। चतुर्थ सत्र की समाप्ति का आदेश जारी हाेने के बाद पंचम विधानसभा काे लेकर भी तैयारियां प्रारंभ कर दी गई हैं।

छत्तीसगढ़ विधानसभा के नए तेवर, जाेगी के लिए अलग सीट- जानें कहां बैठेंगे भाजपा के विधायक

छत्तीसगढ़ में चुनाव के बाद अब नए विधानसभा के गठन की प्रक्रिया प्रारंभ कर दी गई है। चतुर्थ सत्र की समाप्ति का अादेश जारी हाेने के बाद पंचम विधानसभा काे लेकर भी तैयारियां प्रारंभ कर दी गई हैं। छत्तीसगढ़ विधानसभा का पंचम सत्र इसलिए भी खास हाेने जा रहा है क्याेंकि कई मायनाें में यह सत्र इतिहास रचेगा। क्याेंकि पहली बार ऐसा अवसर अाया है जब विपक्ष महज अाधा दर्जन बेंचाें में ही सिमटकर रह जाएगा। दूसरी ओर ट्रेजरी बेंच कहे जाने वाले सत्तापक्ष का कब्जा 68 सीटाें के साथ सदन के 70 फीसदी से अधिक हिस्साें में हाेगा। चतुर्थ विधानसभा में जिस स्थान पर कांग्रेस के सदस्य विपक्षी सदस्याें के रूप में बैठते रहे हैं, वहां अब कांग्रेस के ही सदस्य संख्याबल के लिहाज से सत्तापक्ष के सदस्य के रूप में बैठेंगे। जबकि एक बेंच में या तीन सदस्याें के अनुसार विपक्ष के 15 विधायक अधिकतम 7 बेंचाें में सिमट जाएंगे।

विधानसभा सचिवालय ने निर्वाचन अायाेग से पंचम विधानसभा के गठन की सूचना अाते ही अपनी तैैयारियां भी तेज कर दी हैं। कांग्रेस और भाजपा के साथ इस बार विधानसभा में अन्य दल के रूप में बहुजन समाज पार्टी और जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के भी प्रतिनिधि पहुंचे हैं।

माना जा रहा है कि जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ के दाे वरिष्ठ सदस्याें पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जाेगी और वरिष्ठ विधायक रेणु जाेगी समेत 5 विधायकाें काे विपक्षी सदस्याें के साथ ही सदन में स्थान मिल सकता है।

पार्टी सुप्रीमाे अजीत जाेगी के लिए अलग से सीट का प्रबंध करने की भी तैयारी की जा रही है। विधानसभा सचिवालय ने सदस्याें की बैठक व्यवस्था काे लेकर संबंधित दलाें से भी बातचीत प्रारंभ कर दी हैै। साथ ही सदस्याें की बैठक क्रम के लिए प्राथमिकता तय करने की प्रक्रिया शुरू कर दी है।

पहुंचने लगे नए विधायक

छत्तीसगढ़ विधानसभा के पंचम सत्र में 50 से अधिक विधायक एक से अधिक बार चुने जा चुके हैं, लेकिन 38 विधायक पहली बार चुने गए हैं। इसलिए विधानसभा सचिवालय ने उन्हें नियम प्रक्रियाओं से अवगत कराने और विधानसभा की औपचारिकता पूरी करने के लिए हेल्प डेस्क की शुरुअात कर दी हैै।

12 दिसंबर से ही परिसर में सचिवालय के अधिकारियाें ने वेतन भत्ताें से लेकर परिचय पत्र बनाने और ऋण दिलाने तक सभी प्रक्रियाओं के लिए डेस्क प्रारंभ कर दिया है। अब तक अाधा दर्जन से अधिक विधायकाें ने हेल्प डेस्क में पहुंचकर जानकारियां ली हैं।

प्राेटेम स्पीकर दिलाएंगे शपथ

विधानसभा में इस बार भी विधायकाें काे शपथ दिलाने की प्रक्रिया प्राेटेम स्पीकर के माध्यम से ही पूरी की जाएगी। माना जा रहा है कि सदन के सबसे वरिष्ठ विधायक हाेने के नाते रामपुकार सिंह प्राेटेम स्पीकर बनाए जा सकते हैं।

प्राेटेम स्पीकर द्वारा शपथ दिलाने के बाद इन्हीं में से एक विधायक काे विधानसभा अध्यक्ष चुना जाएगा। सचिवालय ने प्राेटेम स्पीकर के शपथ प्रक्रिया और उसके बाद की कार्रवाई काे लेकर भी अपनी तैयारियां पूरी कर ली है। मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण के बाद ही तिथि निर्धारित कर विधानसभा के प्रथम सत्र की अधिसूचना जारी कर दी जाएगी।

तैयारी पूरी

छत्तीसगढ़ विधानसभा के पंचम सत्र के लिए तैयारी पूरी कर ली गई है। सदस्याें की संख्या के अनुसार बैठक व्यवस्था निर्धारित की जाएगी। विधायकाें की औपचारिकता पूरी करने के लिए हेल्प डेस्क की शुरुअात भी कर दी गई है। इसके माध्यम से सदस्याें काे सभी जानकारियां उपलब्ध कराई जा रही है। (चंद्रशेखर गंगराडे, सचिव, छत्तीसगढ़ विधानसभा)

Share it
Top