logo
Breaking

छत्तीसगढ़: मिलिए इस दंपत्ति से जिन्हें वयस्क होने के बाद भी 20 साल तक नहीं मिला वोट डालने का मौका

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 में मतदान दिवस के दिन एक ऐसे दंपत्ति मिले जो वयस्क होने के बाद भी 20 साल बाद मताधिकार का प्रयोग कर सके।

छत्तीसगढ़: मिलिए इस दंपत्ति से जिन्हें वयस्क होने के बाद भी 20 साल तक नहीं मिला वोट डालने का मौका

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 में मतदान दिवस के दिन एक ऐसे दंपत्ति मिले जो वयस्क होने के बाद भी 20 साल बाद मताधिकार का प्रयोग कर सके। ऐसा इस कारण से हुआ कि दंपत्ति चुनावों के समय में दूसरे राज्य में सर्विस के कारण यहां नहीं पहुंचे पाए।

ये दंपत्ति हैं, मनीषा नायक और राजेश नायक, दोनों दंपत्ति शहर के ही रहवासी हैं। इनका निर्वाचन क्षेत्र भी रायपुर ही है, लेकिन पति की नौकरी पीसीएस टेक्नोलॉजी में दिल्ली, कलकत्ता, लखनऊ, पटना, रांची, और भुवनेश्वर जैसे जगहों पर थी। इसके कारण चुनावी वक्त में वोट डालने नहीं पहुंच पाए।

इसे भी पढ़ें- छत्तीसगढ़ चुनाव में हुई रिकॉर्ड तोड़ वोटिंग, 1097 उम्मीदवारों की किस्मत EVM में बंद- 11 दिसंबर को आएंगे नतीजे

मनीषा नायक बताती हैं, अपने अधिकार का प्रयोग करने का अवसर 20 साल बाद मिला इसके लिए बहुत खुश हैं। वह कहती हैं, चुनाव में वोट डालने के लिए यहां आने का मन रहता था, लेकिन छुट्टी व अन्य कारणों के कारण नहीं आ पाते थे। आज जब फैमली यहीं सैटल हो गई है और आज हम वोट दे रहे हैं तो बहुत खुशी हुई।

Share it
Top