logo
Breaking

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 दूसरा चरण: 72 सीटों पर वोटिंग जारी, कई जगहों पर ईवीएम खराब

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 (Chhattisgarh Assembly Election 2018) के दूसरे व अंतिम चरण की 72 सीटों पर आज (20 नवंबर 2018) सुबह आठ बजे से शाम पांच बजे तक मतदान होगा।

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 दूसरा चरण: 72 सीटों पर वोटिंग जारी, कई जगहों पर ईवीएम खराब

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 (Chhattisgarh Assembly Election 2018) के दूसरे व अंतिम चरण की 72 सीटों पर आज (20 नवंबर 2018) सुबह आठ बजे से वोटिंग जारी है जो शाम पांच बजे तक होगी। 11 दिसंबर को नतीजे आने के साथ ही यह तय हो जाएगा कि राज्य में किस पार्टी की सरकार बनेगी। भाजपा को राज्य में सरकार बनाने का एक और मौका मिलेगा, या कांग्रेस की 15 साल बाद सत्ता में वापसी होगी। या फिर खंडित जनादेश के साथ राज्य में पहली बार जोड़तोड़ वाली सरकार बनेगी।

लाइव अपडेट

दूसरे चरण की 72 सीटों के 19334 सीटों पर वोटिंग शुरू हो गई है। सबसे पहले बिन्द्रानवागढ़ के दो मतदान केन्द्रों पर वोटिंग शुरू हुई। जिसके बाद बिलासपुर में कलेक्टर पी दयानंद ने वोट डाल वहीं बिलासपुर में आईजी प्रदीप गुप्ता ने भी वोटिंग की।

वहीं अंबिकापुर में वोटिंग के लिए भी लंबी लाइन लगी हुई है। इस सीट से कांग्रेस के दिग्गज नेता टीएस सिंहदेव उम्मीदवार हैं तो भाजपा की तरफ से अनुराग सिंहदेव आमने सामने हैं। इस सीट से एक किन्नर प्रत्याशी मुस्कान भी चुनावी मैदान में हैं।

इन 72 सीटों पर होगा मतदान
धमतरी
कुरूद
वैशालीनगर
संजारी बालोद
बिलासपुर
कोटा
रायगढ़
बिल्हा
बसना
बेमेतरा
नवागढ़
पंडरिया
रायपुर दक्षिण
रायपुर उत्तर
गुण्डरदेही
दुर्ग ग्रामीण
बस्तर
दंतेवाड़ा
नारायणपुर
कोंटा
चित्रकोट
बीजापुर
कोंडागांव
अंतागढ़
कांकेर
भानूप्रतापपुर
केशकाल
जगदलपुर
राजनांदगांव
खुज्जी
डोंगरगढ़
खैरागढ़
रायपुर
अभनपुर
आरंग
राजिम
कसडोल
भाटापारा
बिंद्रानवागढ़
दुर्ग शहर
दुर्ग ग्रामीण
भिलाई नगर
पाटन
अहिवारा
साजा
मुंगेली
लोरमी
मरवाही
अकलतरा
सक्ती
खरसिया
चंद्रपुर
रामपुर
धरमजयगढ़
सारंगढ़
कोरबा
अंबिकापुर
सीतापुर
रामानुजगंज
भटगांव
प्रेमनगर
पत्थलगांव
मनेंद्रगढ़
प्रतापपुर
बैंकुठपुर
सामरी
बेलतरा
जांजगीर-चांपा
पामगढ़
सरायपाली
खल्लारी
महासमुंद
छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 (Chhattisgarh Assembly Election 2018) के पहले चरण के लिए 12 नवंबर को 18 सीटों के लिए मतदान हो चुका है। इनमें नक्सल प्रभावित बस्तर संभाग की 12 तथा राजनांदगांव जिले की 6 सीटें शामिल थीं। अब 20 नवंबर को इन दोनों इलाकों को छोड़कर अन्य सभी क्षेत्रों की 72 सीटों के मतदाता अपना विधायक चुनने के लिए वोट डालेंगे। सीटों की संख्या के हिसाब से दूसरे चरण का चुनाव निर्णायक होगा।
दूसरे दौर के चुनाव में ये बड़े नेता हैं दांव पर
दूसरे दौर की 72 सीटों पर हो रहे चुनाव के लिए भाजपा, कांग्रेस, जोगी कांग्रेस सहित अन्य दलों के कुछ बड़े नेताओं का राजनीतिक भविष्य दांव पर लगा है। इनमें भाजपा से गौरीशंकर अग्रवाल, बृजमोहन अग्रवाल, प्रेम प्रकाश पांडेय,अमर अग्रवाल, अजय चंद्राकर, राजेश मूणत, रामसेवक पैकरा, धरमलाल कौशिक, भैय्यालाल राजवाड़े, दयालदास बघेल, ननकी राम कंवर, चंद्रशेखर साहू, ओपी चौधरी शामिल हैं।
वहीं कांग्रेस से प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल, टीएस सिंहदेव, ताम्रध्वज साहू, डॉ. चरण दास महंत, रविंद्र चौबे, धनेंद्र साहू, सत्यनारायण शर्मा, मोहम्मद अकबर, बदरूद्दीन कुरैशी, अरूण वोरा, उमेश पटेल की साख दांव पर है। जोगी कांग्रेस से पार्टी प्रमुख अजीत जोगी, डॉ. रेणु जोगी, आरके राय, सियाराम कौशिक, आम आदमी पार्टी के प्रदेश संयोजक डॉ.संकेत ठाकुर, बसपा के प्रदेश अध्यक्ष ओमप्रकाश बाचपेयी भी मैदान में हैं।
पिछला चुनाव निर्दलीय जीतने वाले प्रदेश के इकलौते विधायक डॉ. विमल चोपड़ा की भी इस चुनाव में परीक्षा होनी है।

मतदान दल आज सुबह से होंगे रवाना
दूसरे चरण के चुनाव के लिए निर्वाचन विभाग ने तैयारियां पूरी कर ली हैं। सोमवार सुबह से जिलों से मतदान दल अपने अपने क्षेत्र के लिए रवाना होंगे। इधर राजनीतिक दलों के लोगों ने रविवार शाम पांच बजे से प्रचार अभियान बंद कर घर-घर दस्तक देना शुरू किया है। यह काम 19 तारीख की रात तक चलेगा। 20 की सुबह से मतदान शुरू होकर शाम पांच बजे तक जारी रहेगा।
स्टार प्रचारकों ने जमकर प्रचार किया
दूसरे चरण के चुनाव में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत भाजपा के कई स्टार प्रचारकों ने यहां जमकर प्रचार किया है। कांग्रेस की ओर से पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी व उनकी टीम ने प्रचार अभियान में जमकर मेहनत की है। जोगी बसपा गठबंधन के लिए पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने अभियान की कमान संभाली तो बसपा प्रमुख मायावती ने तीन बार राज्य का दौरा कर चुनाव में ताकत झोंकी है। अन्य दलों की बात करें तो आम आदमी पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल सहित दूसरे दलों के बड़े नेता अपनी पार्टी के पक्ष में प्रचार करने आए।
Share it
Top