logo
Breaking

छत्तीसगढ़: इन 10 हाई प्रोफाइल सीटों पर हैं सभी की निगाहें

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 के दूसरे चरण की 72 सीटों पर मतदान जारी है। 11 दिसंबर को नतीजे आएंगे।

छत्तीसगढ़: इन 10 हाई प्रोफाइल सीटों पर हैं सभी की निगाहें

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 के दूसरे चरण की 72 सीटों पर मतदान जारी है। इस चुनाव में भारतीय जनता पार्टी, कांग्रेस और जोगी- बसपा के कई दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है।

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 (Chhattisgarh Assembly Election 2018) के दूसरे चरण की 72 सीटों पर आज सुबह आठ बजे से मतदान जारी है जो शाम पांच बजे चलेगा। 11 दिसंबर को नतीजे आएंगे। राज्य में भाजपा 15 साल से सत्ता में है।

इस चुनाव में भारतीय जनता पार्टी, कांग्रेस और जोगी- बसपा के कई दिग्गजों की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है। छत्तीसगढ़ की दस ऐसी विधानसभा सीटें है जिन पर कड़ा मुकाबला है।

1- रायपुर दक्षिण

छत्तीसगढ़ में रायपुर दक्षिण विधानसभा सीट हाई प्रोफाइल मानी जाती है। भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेता बृजमोहन अग्रवाल यहां से फिर मैदान में हैं और कांग्रेस ने कन्हैया अग्रवाल पर दांव लगाया है।

भारतीय जनता पार्टी के कद्दावर नेता बृजमोहन अग्रवाल 1990 से अभी तक इस सीट से चुनाव नहीं हारे हैं।

2- बिलासपुर सीट

छत्तीसगढ़ में बिलासपुर विधानसभा सीट हमेशा से भारतीय जनता पार्टी का गढ़ रही है। इस सीट से भारतीय जनता पार्टी के अमर अग्रवाल चार बार जीते है। कांग्रसे ने इस बार शिक्षाविद शैलेष पांडेय को उनके खिलाफ उतारा है।

3- बिल्हा सीट

प्रदेश की वीआईपी सीटों में एक सीट बिल्हा भी है। बिल्हा सीट से भाजपा प्रदेश अध्यक्ष धरमलाल कौशिक, जोगी कांग्रेस से सियाराम कौशिक और कांग्रेस से पूर्व जिलाध्यक्ष राजेंद्र शुक्ला मैदान में हैं।

ऐसा माना जा रहा है कि अगर राजेंद्र और सियाराम एक-दूसरे के वोट काट गए तो धरमलाल को इसका फायदा मिल सकता है। शुक्ला को अंबालिका साहू की बगावत का भी सामना करना पड़ेगा। यानी कांग्रेस के लिए साहू वोट खतरे में पड़ सकता है। यहां मुकाबला पूरी तरह त्रिकोणीय नजर आ रहा है.

4- मरवाही सीट

मरवाही सीट से अजीत जोगी मैदान में है। भारतीय जनता पार्टी से अर्चना पोर्ते और कांग्रेस से गुलाबसिंह राज से उनका मुकाबला है। इस सीट से अजीत जोगी दो बार और उनके बेटे अमित जोगी एक बार विधायक रहे हैं। यह मुकाबला काफी दिलचस्प रहेगा।

5- अंबिकापुर सीट

अंबिकापुर विधानसभा सीट कांग्रेस के दिग्गज नेता टीएस सिंहदेव का मजबूत गढ़ मानी जाती है। कांग्रेस के नेता सिंहदेव के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी ने अनुराग सिंहदेव, बसपा ने सीताराम और आप ने साकेत त्रिपाठी को उतारा है। टीएस सिंहदेव लगातार अंबिकापुर विधानसभा सीट दो बार से विधायक हैं।

6- सक्ति सीट

सक्ति विधानसभा सीट से कांग्रेस के कद्दावर नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री डॉ. चरणदास महंत मैदान में हैं। महंत के खिलाफ भारतीय जनाता पार्टी ने मेधाराम साहू को मैदान में उतारा है। यह मुकाबला काफी दिलचस्प रहने की उम्मीद है।

7- पाटन सीट

पाटन सीट से कांग्रेस प्रदेश अध्यक्ष भूपेश बघेल चुनावी मैदान में है। भारतीय जनता पार्टी ने भूपेश बघेल के लिए मोतीराम साहू को मैदान में उतारा है। दुर्ग जिले की पाटन विधानसभा सीट पर सबकी नजरें टिकी हुई हैं। पिछले चुनाव में उन्हीं के भतीजे ने कड़ी टक्टर दी थी।

8- कोटा सीट

कोटा विधानसभा सीट पर कांग्रेस का 66 साल से कब्जा है। कांग्रेस ने अजीत जोगी की पत्नी रेणु जोगी की जगह विभोर सिंह को उतारा है तो वहीं रेणु जोगी अपने पति की पार्टी जोगी कांग्रेस से उम्मीदवार हैं।

बता दें कि कोटा विधानसभा क्षेत्र कांग्रेस का सबसे मजबूत दुर्ग माना जाता है।

9- खरसिया सीट

खरसिया सीट विधानसभा सीट कांग्रेस की परंपरागत सीट मानी जाती है। भारतीय जनता पार्टी खरसिया सीट को अभी तक नहीं जीट सकी है। भाजपा ने इस सीट से आईएएस रहे ओ. पी. चौधरी को उतारा है और कांग्रेस ने अपने विधायक उमेश पटेल को उतारा है। खरसिया विधानसभा सीट काफी हाई प्रोफाइल मानी जा रही है।

10- चंद्रपुर सीट

चंद्रपुर विधानसभा सीट से भारतीय जनाता पार्टी के दिलीप सिंह जूदेव के बेटे युद्धवीर सिंह जूदेव मैदान में हैं। युद्धवीर बीजेपी से लगातार दूसरी बार जीतकर विधायक हैं और हैट्रिक लगाने के मकसद से मैदान में उतरे हैं. कांग्रेस ने किसान नेता रामकुमार को मैदान में उतारा है. पिछले चुनाव में बसपा से उन्होंने मिनी जुदेव को कड़ी टक्कर दी थी।

इन 72 सीटों पर हो रहा है मतदान..

धमतरी

कुरूद

वैशालीनगर

संजारी बालोद

बिलासपुर

कोटा

रायगढ़

बिल्हा

बसना

बेमेतरा

नवागढ़

पंडरिया

रायपुर दक्षिण

रायपुर उत्तर

गुण्डरदेही

दुर्ग ग्रामीण

बस्तर

दंतेवाड़ा

नारायणपुर

कोंटा

चित्रकोट

बीजापुर

कोंडागांव

अंतागढ़

कांकेर

भानूप्रतापपुर

केशकाल

जगदलपुर

राजनांदगांव

खुज्जी

डोंगरगढ़

खैरागढ़

रायपुर

अभनपुर

आरंग

राजिम

कसडोल

भाटापारा

बिंद्रानवागढ़

दुर्ग शहर

दुर्ग ग्रामीण

भिलाई नगर

पाटन

अहिवारा

साजा

मुंगेली

लोरमी

मरवाही

अकलतरा

सक्ती

खरसिया

चंद्रपुर

रामपुर

धरमजयगढ़

सारंगढ़

कोरबा

अंबिकापुर

सीतापुर

रामानुजगंज

भटगांव

प्रेमनगर

पत्थलगांव

मनेंद्रगढ़

प्रतापपुर

बैंकुठपुर

सामरी

बेलतरा

जांजगीर-चांपा

पामगढ़

सरायपाली

खल्लारी

महासमुंद

बता दें कि छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 के पहले चरण के लिए 12 नवंबर को 18 सीटों के लिए मतदान हो चुका है। इनमें नक्सल प्रभावित बस्तर संभाग की 12 तथा राजनांदगांव जिले की 6 सीटें शामिल थीं। दूसरे चरण की 72 सीटों पर भाजपा, कांग्रेस, जोगी कांग्रेस सहित अन्य दलों के बड़े नेताओं का राजनीतिक भविष्य दांव पर लगा है।

Share it
Top