logo
Breaking

छत्तीसगढ़ चुनाव/ VVPAT से गिनती की अर्जी रद्द, ईवीएम करेगी 1268 उम्मीदवारों का फैसला

आखिरकार इंतजार खत्म हुआ। छत्तीसगढ़ समेत मध्यप्रदेश, राजस्थान, तेलंगाना और मिजोरम में नई सरकार किसकी बनेगी, आज फैसला सामने आ जाएगा। मंगलवार सुबह 8 बजे से मतगणना शुरू होगी। छग में इस बार हर राउंड का रिजल्ट घोषित करने की वजह से थोड़ी देर से नई सरकार की तस्वीर उभरेगी।

छत्तीसगढ़ चुनाव/ VVPAT से गिनती की अर्जी रद्द, ईवीएम करेगी 1268 उम्मीदवारों का फैसला

आखिरकार इंतजार खत्म हुआ। छत्तीसगढ़ समेत मध्यप्रदेश, राजस्थान, तेलंगाना और मिजोरम में नई सरकार किसकी बनेगी, आज फैसला सामने आ जाएगा। मंगलवार सुबह 8 बजे से मतगणना शुरू होगी। छग में इस बार हर राउंड का रिजल्ट घोषित करने की वजह से थोड़ी देर से नई सरकार की तस्वीर उभरेगी।

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 के लिए आखिरकर फैसले की घड़ी आ गई। मंगलवार को सुबह 8 बजे से प्रदेश के 27 जिला मुख्यालयों में वोटों की गिनती शुरू होगी। चुनाव के नतीजों से साफ होगा कि मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह के नेतृत्व वाली राज्य की भाजपा सरकार को चौथी बार भी सरकार बनाने का मौका मिलेगा,या 15 साल से सत्ता का वनवास भोग रही कांग्रेस की सत्ता में वापसी होगी।
राज्य में त्रिशंकु सरकार बनेगी या पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के नेतृत्व वाला महागठबंधन नई सियासी ताकत बनकर सामने आएगा। इस चुनाव में डॉ.रमन सिंह,भूपेश बघेल, टीएस सिंहदेव, डॉ,चरणदास महंत, धरमलाल कौशिक, अजीत जोगी, रेणु जोगी, बृजमोहन अग्रवाल, प्रेमप्रकाश पांड़ेय, अजय चंद्राकर, सहित अन्य मंत्रियों का राजनीतिक भविष्य दांव पर लगा है। इस बार कई अन्य दलों व निर्दलीय समेत 1286 प्रत्याशी अपना भाग्य आजमा रहे हैं।
छत्तीसगढ़ में दो चरणों में हुए विधानसभा चुनाव के लिए 12 व 20 नवंबर को वोट डाले गए थे। कई दिनों से चल रही जीत-हार की अटकलों के बाद आखिरकर मंगलवार 11 दिसंबर को मतदाताओं का जनादेश सामने आने वाला है। वोटों की गिनती के लिए राज्य के सभी 27 जिलों में 27 मतगणना केंद्र बनाए गए हैं। हर जिले में वहां की विधानसभा सीटों की गिनती सुबह 8 बजे से प्रारंभ होगी। सबसे पहले डाकमत पत्र गिने जाएंगे।
इसके बाद एक-एक राउंड़ करने वोटों की गिनती होगी। इस बार प्रक्रिया में बदलाव करते हुए एक राउंड़ की गिनती पूरी होने के बाद उसका परिणाम घोषित किया जाएगा तब दूसरा राउंड़ शुरू होगा। माना जा रहा है कि इश बदलाव के कारण मतगणना में पहले के मुकाबले अधिक समय लगेगा। अनुमान है कि दोपहर 12 से 1 बजे के बीच नतीजों की झलक अानी शुरू हो जाएगी।
भाजपा कांग्रेस में सीधा मुकाबला कई सीटों पर त्रिकोणीय भी
छत्तीसगढ़ में इससे पहले हुए विधानसभा चुनावों में आमतौर पर भाजपा व कांग्रेस के बीच सीधा मुकाबला होता रहा है। पहली बार राज्य में पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के नेतृत्व वाली पार्टी छजकां और बहुजन समाज पार्टी तथा सीपीआई के बीच हुए गठबंधन के साथ ही तीसरी शक्ति भी मौजूद है। ये देखना दिलचस्प होगा कि ये गठबंधन तीसरी ताकत बन सकता है या नहीं। प्रेक्षकों का कहना है कि कई सीटों पर गठबंधन की सशक्त मौजूदगी के कारण लड़ाई त्रिकोणीय भी हो सकती है। जाहिर है इससे कुछ हद तक नतीजे प्रभावित हो सकते हैं।
इन सीटों पर रहेगी सबकी नजर
इस चुनाव में मुख्यमंत्री डॉ.रमन सिंह का राजनांदगांव सीट पर मुकाबला कांग्रेस की करुणा शुक्ला से है। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल के खिलाप पाटन में भाजपा के मोतीलाल साहू मैदान में हैं। वरिष्ठ कांग्रेस नेता डॉ.चरणदास महंत सक्ती से मेघाराम साहू के खिलाफ प्रत्याशी, कांग्रेस विधायक दल के नेता टीएस सिंहदेव अंबिकापुर में अनुराग सिंहदेव से मुकाबले में हैं।
पूर्व मुख्यमंत्री व महागठबंधन के मुख्यमंत्री पद के दावेदार अजीत जोगी मरवाही से लड़ रहे हैं। कांग्रेस ने उनके खिलाफ गुलाब कमरो को और भाजपा ने अर्चना पोर्ते को उतारा है। कोटा सीट से डॉ. रेणु जोगी छजकां की टिकट पर लड़ रही हैं, कांग्रेस ने उनके खिलाफ विभोर सिंह को प्रत्याशी बनाया भाजपा से काशीनाथ साहू मैदान में हैं।
वरिष्ठ कांग्रेस नेता रविंद्र चौबे अपनी सीट साजा से पिछले चुनाव के विजयी प्रत्याशी लाभचंद बाफना के खिलाफ एक बार फिर मैदान में हैं। यहां से भाजपा का एक बागी पार्टी के लिए चुनौती बना है। कांग्रेस नेता सत्यनारायण शर्मा अपनी सीट रायपुर ग्रामीण हैं, उनका मुकाबला पिछले चुनाव के पराजित प्रत्याशी नंदकुमार साहू से हैं।
इस सीट पर महागठबंधन के ओमप्रकाश देवांगन नई चुनाैती खड़े कर रहे हैं। धनेंद्र साहू अभनपुर, मोहम्मद अकबर कर्वधा से एक बार फिर मैदान में हैं।पूर्व मंत्री ननकीराम कंवर(भाजपा) अपनी सीट रामपुर से तथा चंद्रशेशर साहू अभनपुर से एक बार फिर किस्मत आजमा रहे हैं।
मंत्रियों की सीटों पर क्या होगा फैसला
इस चुनाव में अन्य प्रत्याशियों के अलावा सरकार के मंत्रियों की सीटों पर होने वाले फैसले पर सबकी नजर रहेगी। रायपुर दक्षिण से बृजमोहन अग्रवाल के खिलाफ कांग्रेस ने एक युवा नेता कन्हैया अग्रवाल को उतारा है। रायपुर पश्चिम से राजेश मूणत के पिछले चुनाव में टक्कर देने वाले विकास उपाध्याय एक बार फिर उनके सामने हैं।
भिलाई नगर सीट से मंत्री प्रेमप्रकाश पांड़ेय के खिलाफ कांग्रेस ने युवा नेता तथा भिलाई के मेयर देवेंद्र यादव पर दांव लगाया है। अजय चंद्रकार कुरूद में कांग्रेस की लक्ष्मीकांता साहू से मुकाबला कर रहे हैं, लेकिन उनके खिलाफ एक निर्दलीय नीलम चंद्राकर भी चुनौती पेश कर रहे हैं।
अमर अग्रवाल बिलासपुर सीट से कांग्रेस के नए प्रत्याशी शैलेंद्र पांड़ेय के खिलाफ मुकाबले में हैं। मंत्री केदार कश्यप नारायणपुर, दयालदास बघेल नवागढ़,, महेश गागड़ा बीजापुर,रामसेवक पैंकरा प्रतापपुर, भैय्यालाल राजवाड़े बैकुंठपुर से मैदान में हैं। विधानसभा अध्यक्ष गौरीशंकर अग्रवाल कसडोल से मैदान में हैं।
Share it
Top