logo
Breaking

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 दूसरा चरण: चुनाव अभियान में चुटकुलों के साथ विपक्ष पर निशाना साध रहे हैं सीएम रमन

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 दूसरे चरण का मतदान 20 नवंबर को होगा। इसके लिए सभी पार्टियां ताबड़तोड़ रैलियां कर रही हैं। अपने समर्थकों के बीच ''''डाक्टर साहेब'''', ''''मोबाइल वाले बाबा'''' और सबसे अधिक ''''चाउर वाले बाबा'''' के नाम से मशहूर रमन सिंह अपने चुनाव प्रचार में विपक्ष पर निशाना साधने के लिए चुटकुलों की भी मदद लेते हैं।

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 दूसरा चरण: चुनाव अभियान में चुटकुलों के साथ विपक्ष पर निशाना साध रहे हैं सीएम रमन
छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 दूसरे चरण का मतदान 20 नवंबर को होगा। इसके लिए सभी पार्टियां ताबड़तोड़ रैलियां कर रही हैं। अपने समर्थकों के बीच 'डाक्टर साहेब', 'मोबाइल वाले बाबा' और सबसे अधिक 'चाउर वाले बाबा' के नाम से मशहूर रमन सिंह अपने चुनाव प्रचार में विपक्ष पर निशाना साधने के लिए चुटकुलों की भी मदद लेते हैं।
सिंह ने अजीत जोगी और मायावती की पार्टियों के बीच हाल ही में बने गठबंधन पर निशाना साधते हुए कहा कि हल जोतने वाले किसानों को हाथी की नहीं बल्कि बैल की जरूरत होती है।
सिंह राज्य में रिकार्ड 15 साल से सत्ता में हैं और अगले पांच साल के एक और कार्यकाल के लिए प्रयासरत हैं। सिंह ने कई निर्वाचन क्षेत्रों में जनसभाओं के साथ चुनाव अभियान के एक और व्यस्त दिन की शुरूआत की।
इस दौरान वह लोगों की प्रतिक्रियाएं भी लेते रहते हैं। उनके निर्वाचन क्षेत्र राजनंदगांव में सोमवार को पहले चरण में मतदान कराया गया। दूसरे चरण में शेष 72 विधानसभा सीटों पर मतदान होगा।
मतों की गिनती 11 दिसंबर को होगी। रमन सिंह की अगुवाई में भाजपा छत्तीसगढ़ में लगातार तीन बार शासन किया है। 2003 में तत्कालीन कांग्रेस नेता अजीत जोगी की सरकार को हरा कर भाजपा सत्ता में आयी थी।
जोगी ने अब अपनी अलग पार्टी बना ली है जिसका चुनाव चिह्न हल वाला किसान है। उन्होंने विधानसभा चुनावों के लिए मायावती की बहुजन समाज पार्टी (चुनाव चिह्न हाथी) के साथ गठबंधन किया है।
विपक्षी दलों का दावा है कि सिंह के खिलाफ सत्ता विरोधी रूझान है। विपक्ष का आरोप है कि सिंह की सरकार नक्सली मुद्दे से निपटने में असफल रही है। निवर्तमान विधानसभा में भाजपा के 49 विधायक और कांग्रेस के 39 विधायक हैं।
बसपा के एक विधायक हैं और एक विधायक निर्दलीय हैं। सोमवार को परंपरागत कुर्ता-पाजामा और भगवा रंग का 'मोदी जैकेट' पहने सिंह निश्चिंत दिख रहे थे और आज हो रहे मतदान के बारे में जानकारी के लिए अपने मोबाइल फोन देख रहे थे।
सिंह ने दिन की शुरुआत अपने सहयोगियों से जानकारी लेकर की। सिंह ने तीन निर्वाचन क्षेत्रों में दिनभर के अभियान के लिए तैयारी के बारे में अपने सहयोगियों से जानकारी ली। डाक्टर साहेब के नाम से लोकप्रिय सिंह आयुर्वेदिक डाक्टर हैं।
एनएसजी कमांडो से घिरे सिंह काली सफारी गाड़ियों के काफिले में पुलिस मैदान रवाना हुए। वहां से वह प्रतीक्षारत हेलीकाप्टर से बेमेट्रा विधानसभा क्षेत्र में कुसुमी के लिए रवाना हुए। वहां उन्हें एक चुनावी सभा को संबोधित करना था।
अपने हेलीकॉप्टर में पीटीआई से बात करते हुए मुख्यमंत्री चुनावों को लेकर आश्वस्त दिखे। उन्होंने कहा कि मतदान शांतिपूर्ण तरीके से चल रहा है और मतदान केंद्रों के बाहर लोगों की लंबी कतारें लगी हुयी हैं। इससे पहले सिंह ने सुबह कहा था कि प्रारंभिक प्रतिक्रिया काफी अच्छी और उत्साहजनक है।
सिंह ने कहा कि नक्सल प्रभावित बीजापुर, दंतेवाड़ा और अन्य जगहों पर मतदान चल रहा है और जिस तरह से लोग इसमें भाग ले रहे हैं, यह दिखाता है कि वे नक्सली हिंसा से विचलित नहीं हैं।
उन्होंने कहा कि लोग मतदान करने के लिए साहसपूर्वक आ रहे हैं और शुरुआती रुझान उत्साहजनक हैं और हम इन नक्सली प्रभावित क्षेत्रों में 2013 के विधानसभा चुनावों की तुलना में अधिक सीटें जीतेंगे।
उनका हेलीकॉप्टर जब अपने गंतव्य पर पहुंचने को था, सिंह ने प्रतीक्षारत भीड़ को देखने के लिए नीचे देखा। उन्होंने कहा कि पिछले 15 वर्षों में उनकी सरकार ने बुनियादी ढांचे की मजबूत नींव रखी जो अब विकास की लंबी छलांग लगाने के लिए तैयार है।
हेलीकॉप्टर से बाहर निकलने पर लोगों ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया। उनमें महिलाएं भी शामिल थीं। वे 'मोबाइल वाले बाबा की जय' जैसे नारे लगा रहे थे। वे एक योजना का जिक्र कर रहे थे जिसके तहत उनकी सरकार ने 30 लाख लोगों को मुफ्त स्मार्ट फोन वितरित किए हैं।
अन्य स्थानों पर, सिंह को एक रुपये प्रति किग्रा चावल वितरित करने के लिए 'चाउर वाले बाबा' कहकर स्वागत किया गया। सिंह ने एक जनसभा को संबोधित करते हुए बसपा और अजीत जोगी की पार्टी, छत्तीसगढ़ जनता कांग्रेस के बीच हालिया गठबंधन पर निशाना साधा। उन्होंने कहा कि पहली बार मैंने हाथी और हल वाले किसान के बीच गठबंधन देखा है।
सिंह ने कहा कि आम तौर पर हल एक जोड़ी बैल से जुड़ा होता है, लेकिन छत्तीसगढ़ में यह हाथी के साथ जुड़ा हुआ है। जनसभा के बाद सिंह ने स्थानीय नेताओं से मुलाकात की और पार्टी के शीर्ष केंद्रीय नेताओं की रैलियों में उपस्थिति के बारे में भी पूछताछ की।
इस बीच, उनके सहयोगियों ने बताया कि हेलीकॉप्टर में अभी ईंधन भरा जा रहा है तो सिंह ने कहा कि उन्हें इसके बारे में पहले बताया जाना चाहिए था ताकि वह सभा को और देर तक संबोधित कर सकते थे।
जब वह हेलीकॉप्टर के तैयार होने की प्रतीक्षा कर रहे थे, भाजपा कार्यकर्ताओं ने मुख्यमंत्री के साथ सेल्फी ली। हेलीकॉप्टर में लौटने के बाद सिंह ने भीड़ का अभिवादन किया और अपनी अगली सभा के लिए रवाना हो गए।
Share it
Top