logo
Breaking

एम्बुलेंस में ऑक्सीजन की कमी के कारण 5 साल की मासूम ने तोड़ा दम

बीजापुर के माटवाड़ा आश्रम में अध्यनरत 5 साल की मासूम बुलबुल कुछ दिनों से निमोनिया की बीमारी से गुजर रही थी। जिसका इलाज बीजापुर के जिला हॉस्पिटल 22 अगस्त से चल रहा था।

एम्बुलेंस में ऑक्सीजन की कमी के कारण 5 साल की मासूम ने तोड़ा दम

बीजापुर के माटवाड़ा आश्रम में अध्यनरत 5 साल की मासूम बुलबुल कुछ दिनों से निमोनिया की बीमारी से गुजर रही थी। जिसका इलाज बीजापुर के जिला हॉस्पिटल 22 अगस्त से चल रहा था। अचानक बुलबुल की तबियत बिगड़ते हुए देख डॉक्टरों ने रविवार को 3 बजे मासूम को एम्बुलेंस से जगदलपुर के मेडिकल कॉलेज में रेफेर करने को कहा। लेकिन जगदलपुर पहुचने से पहले ही एम्बुलेंस में ऑक्सीजन खत्म हो जाने से मासूम ने 5.30 बजे तोकापाल के पास दम तोड़ दिया। बुलबुल के परिजनों ने इसके लिए स्वास्थ्य विभाग को जिम्मेदार ठहराया है।

इस घटना के बारे में अधिक जानकारी देते हुए जिला अस्पताल के सिविल सर्जन टी आर कंवर ने बताया कि परिजनों को बुलबुल के स्वास्थ्य के बारे में अवगत कराया गया था और डॉक्टरों ने मासूम को बचाने का भरसक प्रयास किया था और कृतिम सांस दी जा रही थी। बच्ची के लंग्स भी पूरी तरह से डैमेज हो गए थे जिसकी वजह से बच्ची की मौत हो गई
Share it
Top