logo
Breaking

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव/ स्टार प्रचारकों ने पानी की तरह बहाया पैसा, किराए पर लिए 18 हेलीकॉप्टर

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के दौरान इस बार राजनीतिक दलों के स्टार प्रचारकों ने हवाई उड़ान भरी, जिससे रायपुर के स्वामी विवेकानंद विमानतल ने एक कीर्तिमान स्थापित किया। विमानतल पर माहभर में एक हजार उड़ान का रिकार्ड बना है।

छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव/ स्टार प्रचारकों ने पानी की तरह बहाया पैसा, किराए पर लिए 18 हेलीकॉप्टर
छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव के दौरान इस बार राजनीतिक दलों के स्टार प्रचारकों ने हवाई उड़ान भरी, जिससे रायपुर के स्वामी विवेकानंद विमानतल ने एक कीर्तिमान स्थापित किया। विमानतल पर माहभर में एक हजार उड़ान का रिकार्ड बना है।
यहां पहली बार ऐसा हुआ कि किराए की तीन कंपनियों के 18 हेलीकाप्टर राजनीतिक दलों ने यहीं से किराए पर लिए और चुनाव प्रचार पर निकले। वहीं पिछले चुनाव में केवल तीन हेलीकाप्टर ही किराए पर लिए गए थे।
भाजपा और कांग्रेस के साथ ही जोगी कांग्रेस और बसपा ने भी हेलीकाप्टर किराए पर लिए थे। चुनाव प्रचार थमने के बाद हेलिकॉप्टरों और विशेष विमानों के उड़ानों के चौंकाने वाले आंकड़े सामने आए। पहली बार रायपुर एयरपोर्ट पर महीनेभर के भीतर ही नियमित विमानों के साथ डेड़ दर्जन हेलिकॉप्टरों और आधा दर्जन विशेष विमानाें ने एक हजार बार उड़ान भरी है।
रायपुर एयरपाेर्ट पर हर दिन औसतन दाे दर्जन विमानाें की अावाजाही हाेती है। टेकऑफ और लैंडिंग के हिसाब से 40 से 48 बार तक इनकी संख्या दर्ज की जाती है, लेकिन एयरपाेर्ट अथारिटी ने बताया कि चुनाव के कारण 8 नवंबर से लगातार विमानाें की अावाजाही दाेगुनी हाे गई थी।
18 नवंबर तक हर दिन टेकऑफ और लैंडिंग के हिसाब से मूवमेंट 90 से 99 तक पहुंच गया था। महीनेभर के अांकड़ाें काे जाेड़ा जाए, ताे सियासी समर में जीत का परचम लहराने के लिए सियासी दलाें ने एक हजार बार उड़ान भरी और अपने पक्ष में माहाैल भी बनाया।
पिछली बार तक चुनाव के दाैरान बमुश्किल तीन से चार हेलिकॉप्टर ही रायपुर से मूवमेंट करते थे। चुनाव के दाैरान दाे या तीन बार ही विशेष विमनाें की सेवाएं भी ली जाती थीं, लेकिन इस चुनाव में तीन कंपनियाें ने 18 हेलिकॉप्टराें की सेवाएं दीं।
किराए के हेलीकाप्टरों से बना रिकार्ड
किराए के हेलीकाप्टर के साथ यहां नियमित रूप से आने वाले विमानों और सेना के हेलिकॉप्टराें के साथ मतदान दलाें काे पहुंचाने और नक्सल हमलाें के घायलाें काे रायपुर लाने वाले हेलिकॉप्टर भी शामिल हैं। - राकेश अार. सहाय, एयरपाेर्ट निदेशक
Share it
Top