Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

UP का साइक्लोन खत्म, CG से बंगाल की खाड़ी तक द्रोणिका तैयार, एक-दो दिनों में कई क्षेत्रों में बारिश की संभावना

दक्षिण-पश्चिम मानसून की विदाई के बाद भी प्रदेश में बरस रहे बादलों का असर अभी भी रहने वाला है। रविवार को बारिश की वजह बनने वाला उत्तरप्रदेश का चक्रवात खत्म हो गया है, लेकिन दक्षिण छत्तीसगढ़ से पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी तक द्रोणिका तैयार हो गई है।

FILE PHOTOFILE PHOTO

रायपुर। दक्षिण-पश्चिम मानसून की विदाई के बाद भी प्रदेश में बरस रहे बादलों का असर अभी भी रहने वाला है। रविवार को बारिश की वजह बनने वाला उत्तरप्रदेश का चक्रवात खत्म हो गया है, लेकिन दक्षिण छत्तीसगढ़ से पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी तक द्रोणिका तैयार हो गई है, जो एक-दो दिनों में अपना असर दिखाएगी। इसका असर बस्तर में अधिक होगाए लेकिन मध्य इलाका भी इससे प्रभावित रहेगा। रविवार को देर रात तक रायपुर में पांच, माना में छह और बालोद, गुंडरदेही में नौ से आठ सेमी तक बारिश हुई थी।

प्रदेश में रहने वाली बारिश की गतिविधि पर अब तक विराम नहीं लगा है और इसका असर अनेक क्षेत्र में भारी वर्षा के रूप में नजर आ रहा है। मौसम विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक दीपावली तक इसका असर रहने की प्रबल संभावना है। मौसम विशेषज्ञों के मुताबिक प्रदेश में पूर्व की ओर से आ रही हवा और उप्र के सिस्टम ने प्रदेश के कई हिस्सों को बारिश से प्रभावित कर दिया था।

राजधानी में शाम के बाद शुरू हुई बारिश देर रात तक जारी रहीए मगर सोमवार को यह सिस्टम समाप्त हो गया। सोमवार को राजधानी में बादल छाए रहे और कई बार सिस्टम बनाए मगर बारिश नहीं हुई। शाम कुछ इलाकों में विजबलिटी कम रही। वर्तमान में तैयार हुई शक्तिशाली द्रोणिका अपना असर दिखा सकती है। इसकी वजह से बस्तर के कई इलाकों में तेज बारिश हो सकती है और रायपुर समेत आसपास के इलाकों में यह असर डाल सकती है।

बीते 24 घंटे में प्रदेश के अधिकांश स्थानों पर हल्की से मध्यम वर्षाए वहीं एक.दो स्थानों पर भारी बारिश हुई। नगरी में सात सेमी, कुरुद पाटन, माना, केशकाल में 6 सेमी, मगरलोड, रायपुर, नारायणपुर, गरियाबंद, कसडोल, कांकेर में 5, सूरजपुर, थानखम्हारिया, चारामा, मैनपुर, दरभा, उसूर, भानुप्रतापपुर में 4 तथा अन्य इलाकों में तीन से एक सेंटीमीटर तक बारिश हुई।

तापमान और अंतर

रायपुर 27.2 .4

बिलासपुर 27.4 .4

अंबिकापुर 25.8 .3

जगदलपुर 30.0 .1

दुर्ग 30.2 .2

राजनांदगांव 27.5 .2

Next Story
Share it
Top