logo
Breaking

CG NEWS : अब हाईकोर्ट के आदेश के बाद सड़क निर्माण में करोड़ों रुपए के घोटाला से उठेगा पर्दा, नई सरकार से बढ़ी उम्मीद : वीरेन्द्र पाण्डेय

राज्य वित्त आयोग के पूर्व अध्यक्ष वीरेन्द्र पाण्डेय ने कहा कि सड़क निर्माण में करोड़ों रुपए के घोटाला करने का आरोप लगाया है. वीरेन्द्र पाण्डेय ने बताया कि सड़क निर्माण के 21 ठेकों में 12 सौ करोड़ रुपए का घोटाला हुआ है.

CG NEWS : अब हाईकोर्ट के आदेश के बाद सड़क निर्माण में करोड़ों रुपए के घोटाला से उठेगा पर्दा, नई सरकार से बढ़ी उम्मीद : वीरेन्द्र पाण्डेय

अंकुश शर्मा, रायपुर. राज्य वित्त आयोग के पूर्व अध्यक्ष वीरेन्द्र पाण्डेय ने कहा कि सड़क निर्माण में करोड़ों रुपए के घोटाला करने का आरोप लगाया है. वीरेन्द्र पाण्डेय ने बताया कि सड़क निर्माण के 21 ठेकों में 12 सौ करोड़ रुपए का घोटाला हुआ है.



साथ ही उन्होंने आगे कहा कि डामर के एक ही बिल को अलग-अलग ठेकों में इस्तेमाल कर करोड़ों रुपए का बंदरबाट किया गया है. इस संबंध में उनके पास पुख्ता दस्तावेज भी मौजूद है. सड़क निर्माण में करोड़ों रुपए का घोटाला की जानकारी अधिकारियों द्वारा ईओडब्ल्यू को मार्क किया गया था.


इसके बावजूद ईओडब्ल्यू ने इसकी जाँच नहीं की. वीरेन्द्र पाण्डेय ने बताया कि उन्होंने स्वयं इस संबंध में ईओडब्ल्यू को 8 रिमाइंडर भेज चुके हैं. बाद में वे इस मामले को लेकर हाईकोर्ट गए. सरकार बदलने के बाद स्थिति बदलती नजर आ रही है.


हाईकोर्ट ने बीते कल ही इस मामले पर ईओडब्ल्यू को जाँच करने के आदेश दिए हैं. सड़क निर्माण के करोड़ों रुपए के घोटाला के मामले में कई ठेकेदारों को राजनैतिक संरक्षण प्राप्त है. सभी ठेकेदार दक्षिण भारतीय हैं. 1 या 2 ठेकेदार छत्तीसगढ़ से भी हैं.


साथ ही एक ठेका कंपनी महाराष्ट्र के सांसद संचेती का भी है. वीरेन्द्र पाण्डेय ने कहा कि यदि फिर ईओडब्ल्यू ने इस मामले की जाँच में कोताही बरती तो वे फिर हाईकोर्ट जाएंगे.


12 सौ करोड़ के ठेका में ही डेढ़ से दो सौ करोड़ का घोटाला हुआ है. पीडब्ल्यूडी और प्रधानमंत्री सड़क योजना को मिलकर बात की जाये तो 3 से 4 हजार करोड़ रुपए का घोटाला हुआ है.

Share it
Top