logo
Breaking

CG NEWS ब्रेकिंग- देखिये वीडियो : अपनी बेटी का जन्मदिन मनाने लौटा था 7 लोगों का हत्यारा, कातिल के साली ने ही दौड़ाकर पकड़ा और...

बेटी की जन्मदिन मनाने लौटा 7 लोगों का हत्यारा अरुण चंद्राकर को सीरियल किलर के साली ने ही दौड़ाकर पकड़ा और पुलिस के हवाले कर दिया.

CG NEWS ब्रेकिंग- देखिये वीडियो : अपनी बेटी का जन्मदिन मनाने लौटा था 7 लोगों का हत्यारा, कातिल के साली ने ही दौड़ाकर पकड़ा और...

मनोज नायक, रायपुर. अपनी बेटी का जन्मदिन मनाने लौटा 7 लोगों का हत्यारा अरुण चंद्राकर को सीरियल किलर के साली ने ही दौड़ाकर पकड़ा और पुलिस के हवाले कर दिया. सीरियल किलर अरुण चंद्राकर को सरस्वती नगर थाना पुलिस बल ने कुकुरबेड़ा के पास कातिल के रिश्तेदार और कुछ अन्य लोगों की मदद से गिरफ्तार कर लिया है. सीरियल किलर अरुण चंद्राकर 2012 में 7 लोगों की हत्या के जुर्म में सजा काट रहा था.

देखिये वीडियो...

पिछले साल मई में पुलिस कस्टडी में दुर्ग ले जाते समय आरोपी फरार हो गया था. फरारी चल रहा आरोपी अरुण चंद्राकर साधु बनकर जीवन व्यतीत कर रहा था. आरोपी आज अपनी बेटी के जन्मदिन मनाने रायपुर आया हुआ था. आरोपी को दो मामलों में आजीवन कारावास की सजा मिल चुकी है.

मिली जानकारी के अनुसार आरोपी को उसकी साली ने ही दौड़ाकर पकड़ने में पुलिस की मदद की है. आरोपी अरुण चंद्राकर महाराष्ट्र के गोंदिया और कई शहरों में साधु बनकर जीवन काट रहा था. मोहबा बाजार ओवर ब्रिज के नीचे सरस्वती नगर पुलिस ने सीरियल किलर अरुण चंद्राकर को गिरफ्तार कर लिया.

सात लोगों का हत्यारा है अरुण

अरुण चंद्राकर वो शातिर हत्यारा है जिसने एक के बाद सात लोगों की जान ली है. पुलिस की भाषा में जिसे साइलेंट किलर कहा जाता है अरुण ठीक वैसा ही है जो बड़े ही शातिराना अंदाज से हत्याएं करता है और लोगों को मारने के बाद उनकी लाश को बड़ी ही चालाकी से दफना देता था, जिससे कि मारे गए लोगों का कोई सुराग न मिले. अरुण साल 2012 में उस वक्त पुलिस के हत्थे चढ़ा था जब उसे कुकुरबेड़ा इलाके गुमशुदा बच्ची की तलाश में जुटी पुलिस ने संदेह के आधार पर पकड़ा. पूछताछ हुई तो जो राज निकलकर सामने आए उनने पुलिस के होश उड़ा दिए. पूछताछ में अरुण ने बताया कि उसने बच्ची के साथ रेप किया था और फिर उसे बस्ती के एक सुनसान इलाके में दफना दिया था. इसके बाद उसने एक एक कर 6 और हत्याओं को करना कबूल किया था. अरुण ने अपनी पत्नी और पिता समेत 7 लोगों की हत्या करना कबूल किया था, जिनके कंकाल पुलिस ने अरुण की निशानदेही पर बरामद किए थे.

Share it
Top