Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अंतागढ़ टेपकांड मामले में एसआईटी को वॉइस सैंपल देने से अमित जोगी का इंकार, कहा - चाहे तो मुझे गिरफ्तार कर ले

अंतागढ़ टेपकांड मामले में अमित जोगी ने कहा है कि वह एसआईटी को वॉइस सैंपल नहीं देंगे। उन्होंने कहा है कि पहले एसआईटी यह बताए कि वह किस कानून के तहत वॉइस सैंपल मांग रही है।

अंतागढ़ टेप केस मामले में एसआईटी को वॉइस सैंपल देने से अमित जोगी का इंकार, कहा - चाहे तो मुझे गिरफ्तार कर लेAmit Jogi refuses to give a voice sample to SIT in the Antagad Tape Case

रायपुर। अंतागढ़ टेपकांड मामले में अमित जोगी ने कहा है कि वह एसआईटी को वॉइस सैंपल नहीं देंगे। उन्होंने कहा है कि पहले एसआईटी यह बताए कि वह किस कानून के तहत वॉइस सैंपल मांग रही है। उन्होंने ट्विटर पर लिखा है कि एसआईटी चाहे तो उन्हें गिरफ्तार कर ले, लेकिन वह वॉइस सैंपल नहीं देंगे। बता दें कि इसके पहले सोमवार को मंतूराम पवार ने भी वॉइस सैंपल देने से मना कर दिया था। उन्होंने कहा था कि जब तक कोर्ट के आदेश की कॉपी नहीं दिखाई जाती है तब तक वॉइस सैंपल नहीं दूंगा।

आपको बता दें कि अंतागढ़ टेपकांड मामले में किरणमई नायक की शिकायत पर पंडरी थाने में मंतूराम पवार, पूर्व मंत्री राजेश मूणत, जनता कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष अमित जोगी, डॉ. पुनीत गुप्ता, पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है।

क्या है मामला - साल 2014 में कांकेर जिले के अंतागढ़ के तत्कालीन विधायक विक्रम उसेंडी ने लोकसभा का चुनाव जीतने के बाद इस्तीफा दिया था। जिसके बाद वहां उपचुनाव के लिए कांग्रेस ने पूर्व विधायक मंतू राम पवार को प्रत्याशी बनाया था। लेकिन नाम वापसी के अंतिम वक्त पर मंतूराम ने अपना नामांकन वापस ले लिया था। जिससे भाजपा को एक तरह का वाकओवर मिल गया था। बाद में फिरोज सिद्दीकी नाम से एक व्यक्ति का फोन कॉल वायरल हुआ था।

Share it
Top