Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

CG Budget Session : बिजली बिल हाफ के मुद्दे पर सदन में जमकर हंगामा, विपक्ष ने किया वॉकआउट

विधानसभा सत्र के कार्यवाही के आज सातवें दिन प्रश्नकाल में ही बिजली बिल हाफ के मुद्दे को लेकर जमकर हंगामा हुआ. हंगामे के बाद विपक्ष ने वॉकआउट कर लिया.

CG Budget Session : बिजली बिल हाफ के मुद्दे पर सदन में जमकर हंगामा, विपक्ष ने किया वॉकआउट

रायपुर. विधानसभा सत्र के कार्यवाही के आज सातवें दिन प्रश्नकाल में ही बिजली बिल हाफ के मुद्दे को लेकर जमकर हंगामा हुआ. हंगामे के बाद विपक्ष ने वॉकआउट कर लिया. बिजली बिल हाफ को लेकर सदन में विपक्ष ने हंगामा करते हुए कहा कि घोषणा पत्र में सरकार ने इसका वादा किया था.

इस पर सदन ने कहा कि घोषणा पत्र कहाँ से आ गया. किसानों के बिजली बिल हाफ पर मुख्यमंत्री ने कहा कि 1 पंप में 100 रुपए प्रति यूनिट के हिसाब से दिया जाएगा. ऐसे घोषणा पत्र में 400 यूनिट है. इस पर विपक्ष ने हंगामा किया और सदन से वाकआउट कर लिया.

बिजली बिल आधा करने को लेकर सवाल के जवाब में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने सदन में स्पष्ट किया कि घरेलू उपभोक्ता को 400 यूनिट तक बिजली बिल आधा होगा. जब 400 यूनिट से एक यूनिट भी ज्यादा है तो प्रचलित दर से बिजली बिल आएगी.

धरमलाल कौशिक ने सवाल उठाते हुए आगे कहा कि प्रदेश में विद्युत उपभोक्ताओं को विद्युत बिल आधा कब तक करेंगे. कौन उपभोक्ता की श्रेणी में आएगा. इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि जब यह योजना लायी गयी थी उसके पहले का यह प्रश्न है 400 यूनिट जो घरेलू उपभोक्ता ओर बीपीएल परिवारों को इसका लाभ दिया जाएगा.

कांग्रेस के दलेश्वर साहू ने सावाल किया कि CSPDCL द्वारा राजनांदगांव में लघु ओर मध्यम उद्योगों का कितना बिजली बिल शेष है. कितनों की बिजली कटी है. मुख्यमंत्री ने कहा कि विद्युत बिल नही पटाने की स्थिति में बिजली काटी जाती है ऐसा कोई आंकड़ा नही है. किस आधार पर बिजली काटी जाती है ये उस उद्योग और उनके डिपार्टमेंट पर निर्भर करता है.

नेता प्रतिपक्ष धरमलाल कौशिक ने सवाल उठाया कि किसानों को इस योजना से क्यों छोड़ा गया है. इस बात पर भी सदन में खूब हंगामा हुआ. पूरा बिजली बिल हाफ करने की मांग को लेकर बीजेपी के सदस्यों ने जमकर हंगामा किया. सदन में मुख्यमंत्री ने पुनः कहा कि 400 यूनिट से ज्यादा होगा तो हाफ का लाभ नही मिलेगा.

इससे पहले प्रश्नकाल में विधायक लालजी राठिया, विधायक इंदु बंजारे, मोहन मरकाम और अजीत जोगी ने कई सवाल अहम सवाल पूछे. विधायक लाल जी राठिया ने सवाल उठाते हुए कहा कि रायगढ़ जिले में 2018-19 में में विकास यात्रा के दौरान कितना खर्च हुआ है. मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जवाब देते हुए कहा कि 41 लाख 50 हजार रुपए खर्च हुआ है. सभी विभागों में अलग-अलग मद से खर्च हुए हैं. एक करोड़ उनसठ लाख से भी अधिक खर्च हुए हैं.

विधायक इंदु बंजारे ने सवाल उठाते हुए पूछा कि छत्तीसगढ़ प्रदेश में कौन कौन से सार्वजनिक उपक्रम कहाँ और कब से संचालित है. इस पर मुख्यमंत्री ने कहा कि 22 उपक्रम संचालित है. इस पर मोहन मरकाम ने प्रश्न करते हुए कहा कि इसमें कौन से लाभ के हैं. मुख्यमंत्री ने जवाब दिया कि 11 लाभ के उपक्रम में हैं. 7 उपक्रम हानि में है और 4 के आडिट नही हुए हैं.

विधायक दीपक बैज में सवाल उठाते हुए कहा कि चित्रकोट विधानसभा में कितने गांवों का विद्युतीकरण हुआ है. इस पर मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने जवाब देते हुए कहा कि शत प्रतिशत गांव में विद्युतीकरण किया जा चुका है. पूरक प्रश्न में दीपक बैज ने कहा कि कई ऐसे घर हैं जहाँ अब तक बिजली नहीं पहुँच पाई है. इस पर भूपेश बघेल ने कहा कि जहाँ विद्युत नहीं पहुंचा है वहां 31 मार्च 2019 तक पहुँच जाएगा.

Next Story
Share it
Top