Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

आंध्रा में फंसी बस्तर की 117 छात्राओं को लेकर बसें रवाना, विधायक-सांसद की मेहनत रंग लाई

जगदलपुर विधायक रेखचन्द जैन ने सभी छात्राओं से लगातार संपर्क बनाए रखा और उनकी सारी जानकारियां एकत्रित कर उन्हें वापस बस्तर लाने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पत्र लिखा था। पढ़िए पूरी खबर-

आंध्रा में फंसी बस्तर की 117 छात्राओं को लेकर बसें रवाना, विधायक-सांसद की मेहनत रंग लाई
X

जगदलपुर। कोरोना संकटकाल में पूरे देश में करोड़ों लोग फंस गए हैं, इनमें बड़ी संख्या मजदूरों की है। पर मजदूरों के बाद कई छात्र छात्राएं भी हैं, जो उच्च शिक्षा के लिए अपने घरों से दूर रहकर पढ़ाई कर रहे हैं।

ऐसे में इन विद्यार्थियों को भी वापस लाना बड़ी जिम्मेदारी है। बीते दिनों राजस्थान के कोटा में पढ़ रहे बच्चों को वापस लाने राज्य सरकार ने एक मुहिम चलाते हुए उन्हें घर तक पहुंचाया था। जिसे देख आंध्रप्रदेश के हैदराबाद में नर्सिंग की पढ़ाई कर रही बस्तर की 117 छात्राओं ने जगदलपुर विधायक रेखचन्द जैन व बस्तर सांसद दीपक बैज से लगातार संपर्क कर निवेदन किया कि उन्हें भी घर तक पहुंचाया जाए।

जगदलपुर विधायक रेखचन्द जैन ने सभी छात्राओं से लगातार संपर्क बनाए रखा और उनकी सारी जानकारियां एकत्रित कर उन्हें वापस बस्तर लाने के लिए मुख्यमंत्री भूपेश बघेल को पत्र लिखा। वहीं इस पूरे मामले के सामने आने पर बस्तर सांसद दीपक बैज व बस्तर विधायक लखेश्वर बघेल ने भी मुख्यमंत्री से उचित व्यवस्था करने का निवेदन किया।

इस दौरान जगदलपुर विधायक ने एनएमडीसी के सीएमडी बैजेन्द्र कुमार से भी संपर्क किया। हालांकि हैदराबाद को रेड जोन घोषित किया गया है, पर बस्तर के सभी जनप्रतिनिधियों के लगातार प्रयास करने से आखिरकार सभी छात्राओं को वापस लाने जिला प्रशासन ने बस्तर से चार बसें हैदराबाद भेजी। इन चार बसों से सभी 117 छात्राओं को वापस बस्तर लाया जा रहा है।

वापस आने के बाद सभी छात्राओं की जांच की जाएगी और ऐतिहातन सभी को कोरन्टीन किया जाएगा। अपनी बच्चियों की वापसी की सूचना मिलने पर सभी के परिजनों ने बस्तर के जनप्रतिनिधियों व जिला प्रशासन का धन्यवाद दिया है।

Next Story