Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

ब्रह्माकुमारी संस्थान ने मुख्यमंत्री सहायता कोष में दिए 11 लाख रुपए

प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय ने छत्तीसगढ़ स्थित सभी सेवाकेन्द्रों की ओर से मुख्यमंत्री सहायता कोष में रूपये ग्यारह लाख का सहयोग दिया है। कोराना वायरस से बचाव के लिए विशेष रूप से तैयार किए गए प्रशासनिक वार रूम में आज ब्रह्माकुमारी संस्थान की क्षेत्रीय निदेशिका ब्रह्माकुमारी कमला दीदी ने कलेक्टर एस. भारतीदासन को उक्त चेक प्रदान किया।

ब्रह्माकुमारी संस्थान ने मुख्यमंत्री सहायता कोष में दिए 11 लाख रुपए
X

रायपुर. प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय ने छत्तीसगढ़ स्थित सभी सेवाकेन्द्रों की ओर से मुख्यमंत्री सहायता कोष में रूपये ग्यारह लाख का सहयोग दिया है। कोराना वायरस से बचाव के लिए विशेष रूप से तैयार किए गए प्रशासनिक वार रूम में आज ब्रह्माकुमारी संस्थान की क्षेत्रीय निदेशिका ब्रह्माकुमारी कमला दीदी ने कलेक्टर एस. भारतीदासन को उक्त चेक प्रदान किया। इस अवसर पर वरिष्ठ राजयोग शिक्षिका ब्रह्माकुमारी सविता दीदी और वनिशा दीदी भी मौजूद थीं।

प्रजापिता ब्रह्माकुमारी ईश्वरीय विश्व विद्यालय के सभी सेवाकेन्द्रों में सोशल डिस्टेंस का पालन करते हुए ब्रह्म मुहुर्त में तीन बजे से सेवाकेन्द्र में रहने वाली बहनें २२ मार्च से ध्यान साधना कर विश्व के लोगों को भय से मुक्ति के लिए राजयोग मेडिटेशन के माध्यम से शुभ संकल्पों के प्रकम्पन फैला रही हैं।

लाकडाउन के कारण संस्थान की सभी सेवाएं स्थगित हैं। अत: ब्रह्माकुमारी बहनें रोजाना कम से कम तीन घण्टे बैठकर पूरे विश्व को परमात्मा से शक्ति लेकर श्रेष्ठ संकल्पों के प्रकम्पन चारों ओर वायुमण्डल में प्रवाहित करती हैं। ताकि लोग कोरोना के भय से निकलकर खुशहाल जिन्दगी जी सकें। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार कोरोना के भय से दुनिया भर में तीस प्रतिशत मानसिक रोगी बढ़ गए हैं। लोग कोराना के भय के साये में जी रहे हैं। ब्रह्माकुमारी कमला दीदी ने बतलाया कि इस तरह के मानसिक रोगों की सबसे अच्छी दवा है मेडिटेेशन। राजयोगा मेडिटेशन के नियमित अभ्यास से हम सभी तरह की मानसिक बीमारियों से दूर रहकर भयमुक्त जीवन जी सकते हैं।

Next Story