Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

भाजपा में अभी नहीं बदलेगा प्रदेशाअध्यक्ष, लोकसभा चुनाव तक बदलाव के पक्ष में नहीं राष्ट्रीय संगठन

विधानसभा चुनाव में भाजपा की करारी हार के बाद भी संगठन में अभी भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष को बदले जाने की कोई संभावना नहीं है। भाजपा का पूरा ध्यान इस समय लोकसभा चुनाव पर है। प्रदेश अध्यक्ष को लेकर राष्ट्रीय संगठन कोई भी फैसला लोकसभा चुनाव के बाद ही करेगा।

भाजपा में अभी नहीं बदलेगा प्रदेशाअध्यक्ष, लोकसभा चुनाव तक बदलाव के पक्ष में नहीं राष्ट्रीय संगठन

विधानसभा चुनाव में भाजपा की करारी हार के बाद भी संगठन में अभी भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष को बदले जाने की कोई संभावना नहीं है। भाजपा का पूरा ध्यान इस समय लोकसभा चुनाव पर है। प्रदेश अध्यक्ष को लेकर राष्ट्रीय संगठन कोई भी फैसला लोकसभा चुनाव के बाद ही करेगा।

धरमलाल काैशिक का भी कहना है कि अभी कोई बदलाव नहीं किया जा रहा। इस मामले में राष्ट्रीय संगठन ने कुछ नहीं कहा है। उन्होंने पद से इस्तीफा देने से भी इनकार कर दिया है।

भाजपा की जिस तरह से विधानसभा चुनाव में हार हुई है, उसके बाद से ही भाजपा के अंदर ही यह बात होने लगी है कि जिस तरह मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह ने जिम्मेदारी लेते हुए इस्तीफा दिया है, उसी तरह भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष को भी अपना इस्तीफा देना चाहिए। मप्र के प्रदेशाध्यक्ष ने अपना इस्तीफा दिया है।
इसी को देखते हुए कौशिक ने इस्तीफे की उम्मीद की जा रही है, लेकिन कौशिक का कहना है कि उन्हें इस्तीफा देने की जरूरत नहीं है। राष्ट्रीय संगठन ने इसके लिए कुछ नहीं कहा है। राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के साथ बैठक में लोकसभा चुनाव को लेकर तैयारी करने के निर्देश दिए गए हैं।

कौशिक नेता प्रतिपक्ष बने तो होगा बदलाव

भाजपा से जुड़े लोगों का कहना है कि कौशिक चूंकि अब विधायक भी बन गए हैं, तो उनके लिए प्रदेशाध्यक्ष का भी काम देखना आसान नहीं होगा। इधर उनका नाम नेता प्रतिपक्ष के लिए भी चल रहा है। अगर उनका नाम तय हो जाता है, तो उनको प्रदेशाध्यक्ष का पद छोड़ना ही पड़ेगा।
भाजपा के सूत्र कहते हैं कि अभी नहीं, तो लोकसभा चुनाव के बाद तो श्री कौशिक को अध्यक्ष पद छोड़ना पड़ेगा। अध्यक्ष पद के लिए रामप्रताप का नाम मुख्य रूप से लिया जा रहा है। इसी के साथ रामविचार नेताम, राजेश मूणत और रायपुर के जिलाध्यक्ष राजीव कुमार अग्रवाल भी दावेदारों में शामिल हैं।
Next Story
Share it
Top