logo
Breaking

सीईसी से भाजपा ने तीन चरणों में मांगा चुनाव, मोबाइल पर विपक्ष की निगाहें टेढ़ी

चुनावी तैयारी की समीक्षा करने पहुंचे सीईसी ओपी रावत से भाजपा ने छत्तीसगढ़ में तीन चरणों में चुनाव कराने की मांग रखी है।

सीईसी से भाजपा ने तीन चरणों में मांगा चुनाव, मोबाइल पर विपक्ष की निगाहें टेढ़ी
चुनावी तैयारी की समीक्षा करने पहुंचे सीईसी ओपी रावत से भाजपा ने छत्तीसगढ़ में तीन चरणों में चुनाव कराने की मांग रखी है। राजनीतिक दलों के प्रतिनिधिमंडलों से मुलाकात के दौरान सीईसी को कई बिंदुओं पर सुझाव मिले। भाजपा ने जहां तीन चरणों में चुनाव का मुद्दा रखा। वहीं बाकी दलों ने एक चरण पर चुनाव और शासन द्वारा बांटे गए मोबाइल फोन पर प्रचार का मुद्दा उठाया। शासन की कई योजनाओं को लेकर शिकायतें भी सामने रखी। चर्चा में इलेक्शन कमीशन ने सभी राजनीतिक दलों के सुझावों को सुना और नियम-शर्तों की जानकारी भी दी।

भाजपा ने मतदाता सूची के अंतिम प्रकाशन के लिए 15 दिनों की समय सीमा और बढ़ाने की मांग की है। कांग्रेस ने प्रदेश के सभी 90 विधानसभा क्षेत्रों में एक साथ एक चरण में ही चुनाव कराने की मांग की है। साथ ही स्काई योजना में बांटे गए मोबाईल पर शासकीय एप्लीकेशन पर तत्काल रोक लगाने की मांग की है। राज्य में निर्वाचन के लिए आचार संहिता लागू होने के दिनांक से सरकारी शराब दुकान पर 108 एम्बुलेंस, महतारी एक्सप्रेस एम्बुलेंस जैसे वाहनों को भी निर्वाचन आयोग के नियंत्रण में रखने का सुझाव दिया है। इन्हीं वाहनों का दुरूपयोग से धन, शराब आदि का वितरण किया जा सकता है।

जोगी कांग्रेस ने कहा- सर्वे पर लगे रोक

जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ ने तीन चरणों में चुनाव कराने की मांग की है। पहले चरण में बस्तर, दूसरे चरण में सरगुजा और तीसरे चरण में शेष छत्तीसगढ़ में चुनाव होना चाहिए। जोगी कांग्रेस ने अलग-अलग चैनलों की तरफ से कराए जा रहे सर्वे पर तत्काल रोक की मांग की। साथ ही सरकार द्वारा शराब बेचे जाने, 51 लाख मोबाइल फोन का मुद्दा भी उठाया।

बीएसपी ने बैलेट से मांगा चुनाव

बीएसपी ने बैलेट पेपर से चुनाव कराने की मांग की है। जबकि आम आदमी पार्टी ने प्रशासन के दुरुपयोग पर रोक लगाने और आयोग पर इसे लेकर सीधा संज्ञान लेने की मांग की। आप पार्टी ने 5 सूत्रीय मांगों को लेकर ज्ञापन सौंपा। अन्य दलों ने भी बैलेट से ही चुनाव कराने की मांग रखी है। सीईसी समेत वरिष्ठ अधिकारियों ने राजनीतिक दलों की मांग पर कार्रवाई करने का भरोसा दिलाया है।
Share it
Top