logo
Breaking

छत्तीसगढ़ / मिशन 65 प्लस के लिए भाजपा आज करेगी मंथन, सीएम रमन सिंह समेत अन्य पदाधिकारी होंगे शामिल

विधानसभा की सभी 90 सीटों के प्रत्याशियों, चुनाव संचालकों और जिलाध्यक्षों के साथ एक-एक सीट पर मंथन कर भाजपा शुक्रवार को यह जानने का प्रयास करेगी कि उसके मिशन 65 प्लस के लक्ष्य में कितनी सीटें मिल रही हैं।

छत्तीसगढ़ / मिशन 65 प्लस के लिए भाजपा आज करेगी मंथन, सीएम रमन सिंह समेत अन्य पदाधिकारी होंगे शामिल
विधानसभा की सभी 90 सीटों के प्रत्याशियों, चुनाव संचालकों और जिलाध्यक्षों के साथ एक-एक सीट पर मंथन कर भाजपा शुक्रवार को यह जानने का प्रयास करेगी कि उसके मिशन 65 प्लस के लक्ष्य में कितनी सीटें मिल रही हैं। सीटों का जो आंकड़ा निकलकर सामने आएगा, उसके हिसाब से आगे की रणनीति तय होगी कि क्या करना है। भाजपा को वैसे पूरा भरोसा है कि उसकी पार्टी की चौथी बार सरकार बन रही है।
बैठक में राष्ट्रीय सहसंगठन मंत्री सौदान सिंह के साथ मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और अन्य पदाधिकारी शामिल होंगे। बैठक दोपहर एक बजे होगी, इसलिए बैठक में शामिल होने वाले सभी बैठक से पहले यहां पहुंच जाएंगे। जो लोग बाहर थे, सभी की वापसी हो गई है। मुख्यमंत्री शुक्रवार को 12 बजे दिल्ली से लौटेंगे।
दूसरे राज्यों में चुनाव प्रचार का काम निपटते ही भाजपा ने भी अपने सभी प्रत्याशियों से जानकारी लेने के लिए सभी काे राजधानी तलब किया है। इसी के साथ चुनाव संचालन करने वाले और जिलाध्यक्षों को भी बुलाया गया है। अब इन सभी से पार्टी के दिग्गज नेता वन बाई वन बात कर यह जानने का प्रयास करेंगे कि कहां की सीट पर भाजपा की जीत हो रही है और कहां की सीट पर हार की संभावना है।
हार-जीत के आकलन के बाद देखा जाएगा कि भाजपा को सरकार बनाने वाला 46 सीटों का जादुई आंकड़ा मिल पा रहा है या नहीं। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह से लेकर भाजपा का हर नेता यही दावा कर रहा है कि सरकार तो उनकी पार्टी की ही बन रही है, लेकिन अब पहले के मिशन 65 प्लस के लक्ष्य से हटकर बात की जाने लगी है।
सब आज ही आएंगे
बैठक में जिन्हें बुलाया गया है, वो सभी शुक्रवार को ही आएंगे। मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह और राष्ट्रीय सहसंगठन मंंत्री सौदान सिंह भी शुक्रवार को बैठक से पहले 12 बजे दिल्ली से आएंगे। इनके अलावा हर विस के प्रत्याशी भी बैठक वाले दिन ही आएंगे। सरगुजा और बस्तर विस के प्रत्याशी भी गुरुवार रात या अलसुबह निकलकर दोपहर तक आएंगे। बाहर से आने वालों की सुविधा को देखते हुए ही बैठक दोपहर एक बजे रखी गई है। प्रदेश के मंत्री राजेश मूणत, बृजमोहन अग्रवाल के साथ जो भी प्रत्याशी बाहर थे, सभी गुरुवार रात तक लौट आए हैं।

प्रशिक्षण भी होगा
बैठक के बाद सभी विस के प्रत्याशियों और चुनाव संचालकों का मतगणना के लिए प्रशिक्षण होगा। इसमें इन्हें बताया जाएगा कि क्या-क्या सावधानी रखनी है। ये सब यहां से प्रशिक्षण लेने के बाद अपने-अपने विस में जाएंगे। वहां एजेंटों के साथ एआरआे को 9 दिसंबर को प्रशिक्षण दिया जाएगा। बैठक में मुख्यमंत्री के साथ राष्ट्रीय सहसंगठन मंत्री सौदान सिंह, प्रदेश के प्रभारी डॉ. अनिल जैन, भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष धरमलाल कौशिक, महामंत्री पवन साय, संतोष पांडेय के साथ प्रदेश संगठन के पदाधिकारी और कोरग्रुप के सदस्य भी रहेंगे।
Share it
Top