Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

बड़ी खबर : रायपुर-बिलासपुर मार्ग पर 129 की मौत, गृहमंत्री बोले- केन्द्र को लिखेंगे कड़ा पत्र

बिलासपुर MLA शैलेष पांडेय ने कहा कि यह सड़क भले NHAI की हो, लेकिन मरने वाले तो हमारे हैं, उनकी सुरक्षा कैसे होगी? पढ़िए पूरी खबर-

विश्व स्तर का होगा भारत में राष्ट्रीय राजमार्ग नेटवर्क, एनएचएआई ने की ये तैयारी
X
हाईवे (प्रतीकात्मक फोटो)

रायपुर। रायपुर-बिलासपुर राष्ट्रीय राजमार्ग की बदहाली, निर्माण में देरी और लगातार हुई मौतों के मामले पर हाईकोर्ट के लगातार निर्देशों के बाद एक बार फिर यह मामला विधानसभा में उठा। विधानसभा के सदन में जिस प्रकार के आंकड़े सामने आए, वे चौंकाने वाले हैं। तीन सालों के भीतर इस मार्ग पर 129 लोगों की जानें जा चुकी हैं। PWD और गृहमंत्री को जवाब देना पड़ा कि अब NHAI को पत्र लिखा जाएगा और सड़क पर पुलिस की सघन तैनाती सुनिश्चत की जाएगी।

बिलासपुर विधायक शैलेष पांडेय ने इस मामले में ध्यानाकर्षण पेश किया। उन्होंने कि यहां सड़क नहीं है। गड्ढे हैं। पिछले पांच सालों में हुई मौतों का आंकड़ा बताइए।

इस पर PWD और गृहमंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि हमारे पास तीन सालों के आंकड़े हैं। इन तीन सालों में 129 मौतें दर्ज हैं। यह सड़क NHAI (भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण) की है, इसलिए राज्य सरकार कुछ नहीं कर सकती।

इस पर विधायक शैलेष पांडेय ने पुन: आपत्ति करते हुए कहा कि सड़क भले एनएचएआई की हो, उस सड़क पर मरने वाले तो हमारे अपने प्रदेश के हैं, उन्हें हम सुरक्षा कैसे दे सकते हैं। यह सड़क तो मौतों की सड़क बन गई है।

विपक्ष ने भी इस मामले में अपनी चिंता व्यक्त की, जिसके बाद गृह और PWD मंत्री ताम्रध्वज साहू ने कहा कि हमारे तकनीकी विशेषज्ञों की टीम इस सड़क की जाँच करेगी और रिपोर्ट को हम केंद्र सरकार के राष्ट्रीय राजमार्ग मंत्रालय को भेजेंगे। तथ्यात्मक आंकड़ों के साथ सख्त पत्र लिखा जाएगा, साथ ही सड़क पर पुलिस की तैनाती भी सुनिश्चित की जाएगी।

Next Story