Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

'अवाम-ए-हिन्द' भूखों तक पहुंचा रहा रोटी, 1400 जरुरतमंदो को रोज बांट रहे भोजन

संस्था का उद्देश्य- 'कोरोना संक्रमण बीमारी के चलते कोई भी भूखा ना सोए।' पढ़िए पूरी खबर-

अवाम-ए-हिन्द भूखों तक पहुंचा रहा रोटी, 1400 जरुरतमंदो को रोज बांट रहे भोजन
X

रायपुर। कोरोना के चलते किये गये लॉकडाउन में सबसे ज्यादा परेशानियों का सामना गरीब और जरूरतमंद वर्ग के लोगों को करना पड़ रहा है। ऐसे में कुछ सामाजिक संस्थाएं गरीबों की मदद के लिए आगे आये हैं। ऐसी ही रायपुर की 'अवाम-ए-हिन्द' सोशल वेलफेयर कमेटी रामनगर विगत 62 दिनों से गरीबो जरूरतमंद लोगों को लॉकडाउन के दौरान दोनों वक़्त का खाना वितरण कर रही हैं।

'अवाम-ए-हिन्द' सोशल वेलफेयर कमेटी के संस्थापक मोहम्मद सज्जाद खान ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर बताया कि संस्था का उद्देश्य है कि- 'इस कोरोना संक्रमण बीमारी के चलते कोई भी भूखा ना सोए।' छत्तीसगढ़ की सामाजिक संस्था 'अवाम-ए-हिन्द' सोशल वेलफेयर कमेटी प्राकृतिक आपदा, महामारी में गरीबों, जरूरतमंदो की मदद, सेवा कर अपने कार्यों एवं दायित्वो का निर्वहन करती हैं।

लॉकडाउन में मिली छूट के बावजूद बहुत से मजदूरों और गरीबों को बेकारी का सामना करना पड़ रहा है वहीं अगर काम मिल भी रहा है, तो उचित मेहनताना नहीं मिल रहा है।

ऐसे में संस्था प्रतिदिन 1200-1400 लोगों को गरम भोजन वितरण करती है। रामनगर के अलावा राजधानी के विभिन्न क्षेत्रों में जरूरत मंद लोगों तक भी खाना पहुचाया जा रहा है साथ ही बहुत से संस्थाओ एवं व्यक्तिगत संस्थानों को भी 'अवाम-ए-हिन्द' संस्था भोजन देती ताकि जरूरतमंदो तक भोजन पहुंचे।

संस्था ने अपने इस कार्यक्रम को आगे बढ़ाते हुए अगले लॉक डाउन तक अग्रसर करने का निर्णय लिया है। संस्था के संस्थापक मोहम्मद सज्जाद खान के साथ इस कार्य में सैय्यद ज़ाकिर हुसैन, डॉ. भीष्म प्रकाश शर्मा,ज़ुबैर खान, वसीम अकरम, अनिला शर्मा, नन्दा रामटेके, मंतशा खान इत्यादि ने अपना बहुमूल्य योगदान दिया।

Next Story