logo
Breaking

अब 22 को आएगा का अटल का अस्थि कलश, 23 को राजिम के त्रिवेणी संगम में होगा विसर्जन

भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां छत्तीसगढ़ की प्रमुख नदियों में भी विसर्जित की जाएंगी। उनका अस्थि कलश अब यहां 22 अगस्त को दिल्ली से विमान द्वारा लाया जाएगा।

अब 22 को आएगा का अटल का अस्थि कलश, 23 को राजिम के त्रिवेणी संगम में होगा विसर्जन

भारत रत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्व. अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां छत्तीसगढ़ की प्रमुख नदियों में भी विसर्जित की जाएंगी। उनका अस्थि कलश अब यहां 22 अगस्त को दिल्ली से विमान द्वारा लाया जाएगा। कलश लेने के लिए विमानतल पर मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के साथ प्रदेश के मंत्री और संगठन के पदाधिकारी मौजूद रहेंगे। 23 अगस्त को रायपुर के साथ धमतरी और गरियाबंद से कलश यात्रा निकलेगी, जो एक साथ राजिम पहुंचेगी। वहां तीनों जिले के कलशों की अस्थियों का विसर्जन त्रिवेणी संगम में किया जाएगा।

अस्थि कलश पहले यहां 21 अगस्त को अाने वाला था, इसे लेने के लिए भाजपा के प्रदेशाध्यक्ष धरमलाल कौशिक सोमवार को दिल्ली जाने वाले थे, लेकिन अब वे मंगलवार को जाएंगे और बुधवार 22 अगस्त को दोपहर अस्थि कलश लेकर लौटेंगे। 22 अगस्त को देश के सभी राज्यों के भाजपा के प्रदेशाध्यक्षों या उनके प्रतिनिधियों काे भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह कलशों का वितरण करेंगे।
ये कलश लेकर उसी दिन सभी अपने-अपने राज्यों के लिए रवाना हो जाएंगे। रायपुर के विमानतल पर कलश लेने भारी संख्या में कार्यकर्ता भी जाएंगे। कलश काे लाकर एकात्म परिसर में रखा जाएगा। यहां 22 अगस्त को ही सभी जिलों के प्रतिनिधियों को कलश सौंपा जाएगा। ज्यादातर जिलों में 23 अगस्त को ही शोक सभा के बाद कलश यात्रा निकालकर अस्थियों का विसर्जन किया जाएगा।

शोक सभा के बाद कलश यात्रा

रायपुर में 23 अगस्त की सुबह 9 बजे अस्थि कलश को टाउनहॉल में लोगों के दर्शन के लिए रखा जाएगा। यहां पर 11 बजे शोक सभा के बाद कलश को राजिम के लिए रवाना किया जाएगा। इस कलश यात्रा में प्रदेश के मंत्री राजेश मूणत, जिले के प्रभारी मंत्री पुन्नूलाल मोहले, सांसद रमेश बैस, विधायक श्रीचंद सुंदरानी, देवजी भाई पटेल, भाजपा के जिलाध्यक्ष राजीव कुमार अग्रवाल के अलावा भाजपा के कार्यकर्ता बड़ी संख्या में शामिल होंगे।
कलश यात्रा के राजिम पहुंचने के बाद वहां पर शाम को चार बजे शोक सभा का आयोजन है। उसके बाद अस्थियों का विसर्जन त्रिवेणी संगम में किया जाएगा। यहां पर गरियाबंद और धमतरी से निकली कलश यात्रा भी आएगी और इन जिलों के कलशों की अस्थियों का भी विसर्जन होगा। इस सभा में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह के अलावा गरियाबंद जिले के प्रभारी मंत्री बृजमोहन अग्रवाल और कई मंत्री शामिल होंगे। साथ ही भाजपा के कार्यकर्ताआें के साथ सामाजिक संगठनों से जुड़े लोग भी शामिल होंगे।
Share it
Top