Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

कुलपति बनने की खबर पर बोलीं अमृता राय- आवेदन किया ही नहीं, केवल चंडूखाने की गप

दोस्तों, एक फ़ोन ही कर लेते, एक मेसिज ही कर लेते, जैसा आपके कई साथियों ने किया भी है; मैं सीधे बता देती कि ये खबर कुछ नहीं, बस चंडुखाने की गप्प है।

कुलपति बनने की खबर पर बोलीं अमृता राय- आवेदन किया ही नहीं, केवल चंडूखाने की गप

रायपुर. छत्तीसगढ़ के पत्रकारिता विश्वविद्यालय की कुलपति बनने की खबर पर अमृता राय ने तीखी नाराजगी व्यक्त की है। अमृता राय ने अपने फेसबुक वॉल पर इस खबर को अफवाह बताया है।बार-बार हुए अफवाह के चलते अमृता राय ने अफवाह फ़ैलाने वाले मीडिया पर भी निशाना साधा है। अमृता राय ने अपने फेसबुक वॉल पर जो कुछ लिखा है उसे हम हुबहू यहाँ प्रकाशित कर रहे हैं...

एक खबर बहुत ज़ोरों से चलायी गयी है कि मैंने एक आवेदन दिया है और छत्तीसगढ़ की राज्यपाल महोदया से कहा है कि मुझे एक विश्वविद्यालय की वाइस चान्सलर बना दें। पिछले साल मैंने सुना था कि मैं तत्कालीन मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के ख़िलाफ़ चुनाव लड़ने जा रही हूँ। बाद में कभी लोकसभा चुनाव, तो कभी मेयर की लाइन में भी मुझे खड़ा कर दिया गया।

यहाँ सब कुछ होता रहता है, बस मुझे ही खबर नहीं होती कि मैं क्या करने जा रही हूँ। मध्य प्रदेश - छत्तीसगढ़ की मीडिया के ज़्यादातर साथी मेरे व्यक्तिगत सम्पर्क में रहते हैं, अक्सर बात भी करते रहते हैं, लेकिन जाने क्यों मेरे ख़ुद के मामलों में अंतरयामी बन जाते हैं।

दोस्तों, एक फ़ोन ही कर लेते, एक मेसिज ही कर लेते, जैसा आपके कई साथियों ने किया भी है; मैं सीधे बता देती कि ये खबर कुछ नहीं, बस चंडुखाने की गप्प है। न कोई आवेदन किया है, न ही कोई ऐसा पद माँगने या ग्रहण करने की संभावना है। ये खबर सिर्फ़ और सिर्फ़ उस फ़ेक दिव्यदृष्टि का कमाल है, जो तथ्य से परे गप्प गढ़ भी लेती है और प्रचारित कर भी देती है।

Next Story
Hari bhoomi
Share it
Top