Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

अंतागढ़ टेपकांड मामले में एसआईटी दफ्तर नहीं पहुंचे अजीत जोगी और अमित जोगी, अब मामले को लेकर कोर्ट जा सकती है SIT

अंतागढ़ टेपकांड मामले में पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी और अमित जोगी वॉइस सैम्पल देने एसआईटी दफ्तर नहीं पहुंचे। बता दें कि मामले की जांच कर रही एसआईटी की टीम ने नोटिस देकर दोनों बुलाया था।

अंतागढ़ टेपकांड मामले में एसआईटी दफ्तर नहीं पहुंचे अजीत जोगी और अमित जोगीAjit Jogi and Amit Jogi did not reach SIT office in Antagarh tape case

रायपुर। अंतागढ़ टेपकांड मामले में पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी और अमित जोगी वॉइस सैम्पल देने एसआईटी दफ्तर नहीं पहुंचे। बता दें कि मामले की जांच कर रही एसआईटी की टीम ने नोटिस देकर दोनों बुलाया था। इसके पहले भी एसआईटी दोनों को नोटिस भेज चुकी है। लेकिन उन्होंने एसआईटी को वॉइस सैम्पल नहीं दिया है। बताया जा रहा है कि अब एसआईटी मामले को लेकर कोर्ट में जाएगी। इधर अमित जोगी और अजीत जोगी ने कहा है कि उन्हें किसी प्रकार का नोटिस नहीं मिला है।

क्या है मामला - साल 2014 में कांकेर जिले के अंतागढ़ के तत्कालीन विधायक विक्रम उसेंडी ने लोकसभा का चुनाव जीतने के बाद इस्तीफा दिया था। जिसके बाद वहां उपचुनाव के लिए कांग्रेस ने पूर्व विधायक मंतू राम पवार को प्रत्याशी बनाया था। लेकिन नाम वापसी के अंतिम वक्त पर मंतूराम ने अपना नामांकन वापस ले लिया था। जिससे भाजपा को एक तरह का वाकओवर मिल गया था।

Next Story
Share it
Top