Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

90 साल की देवबती ने दान की 3 महीने की पेंशन, 4 साल की काजल ने सौंप दी गुल्लक

आज इसी कड़ी में गाँव की करीब 90 वर्षीय बुजुर्ग श्रीमती देवबती साहू धर्मपत्नी स्व. मनबोध साहू ने अपने 3 माह के पेंशन की राशि ग्राम के पंच सुकालू फुटान को देश के प्रधानमंत्री राहत कोष हेतु भेंट किया है. उन्होंने अपने जीवन-निर्वाह की आवश्यकताओं को सीमित करते हुए जनकल्याण के लिए आगे बढ़ने की राह दिखाई है.

90 साल की देवबती ने दान की 3 महीने की पेंशन, 4 साल की काजल ने सौंप दी गुल्लक
X

बालोद. छत्तीसगढ़ के बालोद जिले में विकासखंड गुरूर के अंतर्गत रायपुर-बस्तर रोड पर स्थित गाँव चिटौद में भी ऐसा ही दिल छू लेने वाला अनुकरणीय पहल नजर आया है. ग्राम पंचायत चिटौद के सचिव मनोज कुमार साहू ने जानकारी दी है कि करीब 3 हजार की आबादी वाले इस गाँव में भी वर्तमान संकट के बीच इंसानियत के उदाहरण मौजूद हैं.

आज इसी कड़ी में गाँव की करीब 90 वर्षीय बुजुर्ग श्रीमती देवबती साहू धर्मपत्नी स्व. मनबोध साहू ने अपने 3 माह के पेंशन की राशि ग्राम के पंच सुकालू फुटान को देश के प्रधानमंत्री राहत कोष हेतु भेंट किया है. उन्होंने अपने जीवन-निर्वाह की आवश्यकताओं को सीमित करते हुए जनकल्याण के लिए आगे बढ़ने की राह दिखाई है.

गाँव की ही नन्ही बालिका काजल साहू सुपुत्री युवा नागरिक डिगेश्वर कुमार साहू ने भी अपने गुल्लक में जमा राशि कुल 5000 रूपए देश की सेवा में समर्पित किए हैं. उनकी इस मासूम बचपन में छिपी दानशीलता ने हम सभी में आत्मसंतुष्टि के साथ-साथ सेवाभाव को पुनर्स्थापित करने की प्रेरणा दी है.

Next Story