Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

8 लाख के इनामी नक्सली ने किया सरेंडर, बम ब्लास्ट समेत हत्या की घटनाओं में था शामिल

प्लाटून नंबर 24 के डिप्टी कमांडर प्रदीप उर्फ़ भीमा कुंजाम ने पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा डॉक्टर अभिषेक पल्लव के समक्ष किया आत्मसमर्पण। पढ़िए पूरी खबर-

8 लाख के इनामी नक्सली ने किया सरेंडर, बम ब्लास्ट समेत हत्या की घटनाओं में था शामिल
X

दंतेवाड़ा। नक्सल उन्मूलन अभियान के तहत प्लाटून नंबर 24 के डिप्टी कमांडर ने आत्मसमर्पण कर दिया है। जानकारी के मुताबिक आत्मसमर्पण करने वाले माओवादी पर 8 लाख के इनाम की घोषणा की गई थी। प्लाटून नंबर 24 के डिप्टी कमांडर प्रदीप उर्फ़ भीमा कुंजाम ने पुलिस अधीक्षक दंतेवाड़ा डॉक्टर अभिषेक पल्लव और पुलिस महानिरीक्षक (परि.) सीआरपीएफ डीएम लाल के समक्ष आत्मसमर्पण किया है।

आत्मसमर्पित माओवादी साल 2008 में माओवादी संगठन में भर्ती होकर मंलागिर एल.ओ.एस. सदस्य के रूप में सक्रिय रहा। साल 2009 से कटेकल्याण एल.ओ.एस. में ट्रांसफर किया गया। 1 साल बाद साल 2010 से 2013 तक गणेश उईके के साथ पी.वी.सी. दलम में कार्यरत रहा। गणेश उईके के पश्चिम बस्तर चले जाने के बाद एस. जेड. सी चैतू के साथ काम कर रहा था।

साल 2014 एवं 2015 के दौरान माड़ डिवीज़न एवं बटालियन में माओवादियों से रेडियो, वायरलेस सेट खोलना, जोड़ना, रिपेयरिंग करना, बूबी ट्रैप, मोबाइल मैसेजिंग, इंटरसेप्शन डिकोडिंग करने की ट्रेनिंग ले चुका है। साल 2017 में माओवादी संगठन द्वारा संगठन में रहने के दौरान अपने साथ एस.एल.आर. रायफल रखता था।

छत्तीसगढ़ शासन द्वारा नई इनामी पॉलिसी के तहत मंलागिर एरिया के प्लाटून नंबर 24 के डिप्टी कमांडर 8 लाख का इनाम घोषित है।

आत्मसमर्पित माओवादी इन घटनाओं में था शामिल:-

• 26 जून 2011 को थाना किरंदुल क्षेत्र के पटेलपारा किरंदुल मार्ग से पेट्रोलिंग पर निकली पुलिस पार्टी को बम विस्फोट कर हत्या करने की घटना में शामिल था। इसमें निरीक्षक नागवंशी सहित तीन आरक्षक सहित हो गए थे।

• साल 2012 में मडेन्दा नाला के पास अन्य माओवादी साथियों के साथ मिलकर एंटी लैंडमाइन व्हीकल को उड़ाने की घटना में शामिल था।

• 13 मई 2012 को थाना की किरन्दुल क्षेत्र अंतर्गत एनएमडीसी के पास पेट्रोलिंग पर निकली सीआईएसएफ वाहन को बम विस्फोट करने की घटना में शामिल था। जिसमें पांच सीआईएसफ जवान एवं एक सिविलियन शहीद हो गए थे।

• साल 2016 में बुर्कापाल जिला सुकमा में 25 सीआरपीएफ जवान की एंबुश लगाकर हत्या करने की घटना में शामिल था।

Next Story