Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

2 करोड़ 59 लाख रुपए की चोरी का 48 घंटे में ही खुलासा, साढ़े 5 किलो जेवर व नगदी समेत आरोपी गिरफ्तार

भिलाई के सुपेला स्थित पारख ज्वेलर्स के शो रूम में बड़े ही शातिर अंदाज में 2 करोड़ 59 लाख रुपये की चोरी मामले में पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी लोकेश श्रीवास को दुर्ग रैन बसेरा से गिरफ़्तार किया गया है। आरोपी के पास से चोरी की गई 5 किलो 558 ग्राम सोने चांदी के ज्वेलरी और नगदी बरामद कर लिए गए हैं।

2 करोड़ 59 लाख रुपए की चोरी का 48 घंटे में ही खुलासा, साढ़े 5 किलो जेवर व नगदी समेत आरोपी गिरफ्तार

दुर्ग. भिलाई के सुपेला स्थित पारख ज्वेलर्स के शो रूम में बड़े ही शातिर अंदाज में 2 करोड़ 59 लाख रुपये की चोरी मामले में पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी लोकेश श्रीवास को दुर्ग रैन बसेरा से गिरफ़्तार किया गया है। आरोपी के पास से चोरी की गई 5 किलो 558 ग्राम सोने चांदी के ज्वेलरी और नगदी बरामद कर लिए गए हैं।


दुर्ग जिले में प्रदेश के सबसे बड़े चोरी के मामले में आरोपी को पुलिस ने 48 घण्टे में ही धर दबोचा है। और प्रदेश में सबसे बड़ी रिकवरी कर 2 करोड़ 59 लाख रुपए के सोने के ज्वेलरी व नगदी बरामद कर लिए है। दरअसल भिलाई के सुपेला में पारख ज्वेलर्स में हुई करोड़ों की चोरी का खुलासा करते हुए पुलिस ने बताया कि आरोपी के पास से सोना एवं नगद राशि बरामद कर लिया गया है। आरोपी कबीरधाम जिले का निगरानी सुदा बदमाश है।

दुर्ग आई जी विवेकानंद सिन्हा दुर्ग, एसपी अजय यादव ने बताया कि आरोपी लोकेश श्रीवास उर्फ गोलू कवर्धा निवासी ने चोरी को अंजाम दिया था। अजय यादव ने बताया कि आरोपी इन पैसों से आलीशान पार्लर खोलना चाहता था। उन्होंने बताया कि आरोपी के ऊपर पहले से ही चोरी के 13 मामले दर्ज है। आई जी विवेकानंद सिन्हा ने बताया कि आरोपी लोकेशन 15 से 20 दिन तक पूरे क्षेत्र की रेकी की थी, उसके बाद अकेले ही इस वारदात को अंजाम दिया।

पुलिस ने इसे दुर्ग बस स्टैंड स्थित रेन बसेरा डॉरमेट्री से हिरासत में लिया है। आरोपी ने 11 तारीख की रात को बाजू में निर्माणाधीन शॉप से ही दुकान में घुसकर इलेक्ट्रिक कटर से लिफ्ट की ग्रिल काटी और चार इंच की दीवाल तोड़कर अंदर घुसा सीसीटीवी को मोड़ा लकड़ी के दरवाजे को तोड़कर ज्वेलरी और नगदी इकठ्ठा किया। आरोपी को पुलिस ने चोर को पकड़ने 6 टीम बनाई और बारह हजार मोबाइल नम्बर खंगाले, 300 से अधिक सीसीटीवी खंगाले और फिर आदतन और शातिर चोरों की लिस्ट तैयार की। जिसमे से फिलटर करते हुए अभी को ट्रेस किया आरोपी लोकेश का मोबाइल तीन दिन तक बन्द था, इससे पुलिस को शक हुआ और फिर उसे तलाशने पुलिस दुर्ग पहुंची, दुर्ग के रैन बसेरा में पुलिस ने लोकेश को हिरासत में लिया और पूछताछ की तो आरोपी ने गुनाह कबूल कर लिया।

Next Story
Top