logo
Breaking

आर्मी में जाना है तो मत करना ये गलती

थल सेना में भर्ती होना है तो सेना ने एक बड़ी शर्त रखी है, जिसे तोड़ने वाले सेना में शामिल नहीं हो सकते हैं।

आर्मी में जाना है तो मत करना ये गलती

थल सेना में छत्तीसगढ़ के जवानों की भर्ती के लिए 6 मई को बिलासपुर के बेहतरिया स्टेडिमयम में भर्ती रैली का आयोजन किया गया है। जवानों को थल सेना में भर्ती करने के लिए जो शर्तें रखी गई हैं, उसमें यह बात खासतौर पर शामिल है कि ऐसे लोगों को सेना में शामिल नहीं किया जाएगा, जिनके शरीर पर टैटू (गोदना) बना हुआ है। साथ ही सेना ने यह बात जोर देकर कही है कि सेना में शामिल होने के लिए किसी दलाल का सहारा न लें।

सेना भर्ती कार्यालय की ओर से जारी की गई सूचना में कहा गया है कि इस भर्ती रैली में प्रदेश के सभी जिलों के युवा शामिल हो सकते हैं। सेना में जाने वालों के लिए कुछ हिदायतें भी दी गई हैं। भर्ती प्रक्रिया के लिए 20 अप्रैल तक सेना की वेबसाइट पर आवेदन किए जा सकते हैं। 22 अप्रैल को बेवसाइट पर ही प्रवेशपत्र जारी किया जाएगा।

ऐसा गोदना नहीं चलेगा

सेना ने भर्ती के लिए जो नियम रखे हैं, उसमें खासतौर पर टैटू (गोदना) को लेकर हिदायत दी गई है। जवान के शरीर पर स्थायी गोदना नहीं होना चाहिए। टैटू सिर्फ बाजू के अंदर के हिस्से में व कोहनी के निचले हिस्से में कलाई न हथेली के पीछे तक मान्य है। शरीर के अन्य किसी हिस्से में टैटू मान्य नहीं होगा। अनुसूचित जनजाति के जवानों के मामले में यह व्यवस्था रखी गई है कि जिनके चेहरे या शरीर पर धार्मिक रीति रिवाजों व पंरपराओं के अनुरूप गोदना लगा होगा, उन्हें चयन प्रक्रिया के लिए अनुमति गोदना की जांंच पड़ताल के बाद दी जाएगी।

भर्ती मुफ्त है, दलाल नहीं करा सकते

सेना ने भर्ती के लिए दलालों का सहारा न लेने की बात जोर देकर कही है। यह साफ किया गया है कि भर्ती प्रक्रिया मुफ्त है। पूरी तरह आॅनलाईन कंप्यूटराइज प्रक्रिया से भर्ती की जाएगी। दलाल इसमें कुछ नहीं कर सकते। युवाओं से अपील की गई है कि वे अपनी मेहनत व काबिलियत के दम पर सेना में शामिल हों।

Share it
Top