Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

आ रहे हैं एग्जाम पास तो ये टिप्स कर सकते हैं आपका भय और तनाव दूर..

कुछ ही दिनों पश्चात हाई एवं हायर सेकंडरी कक्षाओं की बोर्ड परीक्षाएं प्रारंभ होने जा रही हैं। परीक्षा के दौरान विद्यार्थियों के मन में भय तनाव एवं चिंता बनी रहती है।

आ रहे हैं एग्जाम पास तो ये टिप्स कर सकते हैं आपका भय और तनाव  दूर..

कुछ ही दिनों पश्चात हाई एवं हायर सेकंडरी कक्षाओं की बोर्ड परीक्षाएं प्रारंभ होने जा रही हैं। परीक्षा के दौरान विद्यार्थियों के मन में भय तनाव एवं चिंता बनी रहती है। इस समय तनावग्रस्त रहने की बजाय तनाव मुक्त रहना चाहिए।

मन शांत एवं एकाग्रचित होना चाहिए। ताकि परीक्षा में पेपर सही ढंग से हल हो और सही उत्तर लिखकर अधिकतम अंक अर्जित किए जा सकें। विद्यार्थी ज्यादा कठिन विषय गणित को मानते हैं। गणित के पेपर में अत्यधिक चिंतित रहते हैं।

जबकि इस विषय में गंभीरता से पढ़ाई करने पर अधिकतम अंक लाए जा सकते हैं। अर्थात गणित स्कोरिंग सब्जेक्ट है। गणित को हल करने हेतु सबसे महत्वपूर्ण फार्मूले याद रखें। अपना बेसिक कांसेप्ट क्लियर रखें। जिससे गणित आसानी से हल हो सकेगा।

ये भी पढ़ेंः Exam Tips; परीक्षा की तैयारी करते समय भुल कर भी न करें ये गलतियां, बिगड़ सकता है रिजल्ट

समय का रखें पूरा ध्यान

परीक्षा हॉल में गणित के पेपर को प्रथम प्रश्न से अंतिम प्रश्न तक पूरा पढ़ें। जो प्रश्न आपको तुरंत हल करते बने उसे सबसे पहले हल करें। अंत में सबसे कठिन प्रश्नों को हल करें। किसी भी प्रश्न को हल करने से ज्यादा समय नष्ट ना करें।

बल्कि जितने अंक का प्रश्न है उसी के अनुसार हल करने हेतु समय लगावे। कई बार विद्यार्थी कम माक्स के प्रश्नों को हल करने में अधिक समय नष्ट कर देते हैं। जिससे बाकी प्रश्नों को हल करने के लिए उनके पास समय नहीं बचता।

ये भी पढ़ेंः NEET Exam 2018: इन टॉपिक्स पर करें फोकस, टुकड़ों में बांटकर पढ़ें पूरा सिलेबस

न्यूमेरिकल, मल्टीपल चॉइस प्रश्नों के लिए शॉर्टकट

प्रश्न पत्र में पूछे गए न्यूमेरिकल, मल्टीपल चॉइस प्रश्नों को शॉर्टकट में हल करें। प्रश्नों को स्टेप वाइज साल्व करें। प्रत्येक स्टेप को क्लियर करते चलें। ताकि किसी कारणवश आपका आंसर सही नहीं आ पाए तो भी आपको कुछ मार्क्स मिल सकें।

बुक्स में दिये गए उदाहरण एवं पिछले वर्षों में पूछे गए प्रश्नों को रिवीजन करने के दौरान कॉपी में पूरा लिख कर हल करके देखें। ताकि आपको लिखने के वर्क से आपकी कमजोरी पता चल सके।

ऐसे लाए जा सकते हैं अच्छे नम्बर

फार्मूला को कंठस्थ याद करें व प्रश्नों को स्टेप वाइज हाल करें। यदि फॉर्मूले आप भूल जाते हैं, तो उन्हें किसी ऐसी जगह में लिखकर चिपका दें, जहां आपकी नजरें जाती हों। यदि फिर भी याद करने में दिक्कतें आ रही हों, तो फॉर्मूलों को भी चीजों के साथ जोड़कर याद करें।

Next Story
Top