Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

ऑनलाइन मार्केटिंग: एडवरटाइजिंग से लेकर वेबसाइट डिजाइनिंग तक ऐसे करें स्टार्टअप, कमाएं लाखों

भारत ऑनलाइन एडवरटाइजिंग, सोशल मीडिया और वेबसाइट डिजाइन सहित कई अन्य सेवाओं के लिए ‘डिजिटल आउटसोर्सिंग हब’ के रूप में तेजी से उभर रहा है। हाल के वर्षों में कंपनियों और यूजर्स दोनों का फोकस डिजिटल मीडियम की तरफ तेजी से बढ़ा है। इसके साथ ई-कॉमर्स बिजनेस के तेजी से विस्तार, इंटरनेट और मोबाइल फोन के बढ़ते इस्तेमाल की वजह से डिजिटल मार्केटिंग मैनेजर की जरूरत बढ़ गई है।

ऑनलाइन मार्केटिंग: एडवरटाइजिंग से लेकर वेबसाइट डिजाइनिंग तक ऐसे करें स्टार्टअप, कमाएं लाखों

इन दिनों ऑनलाइन यानी डिजिटल मार्केटिंग का क्षेत्र तेजी से उभर रहा है। इस फील्ड में डिजिटल मार्केटिंग एग्जीक्यूटिव्स और मैनेजर्स की बड़ी भूमिका होती है। यही किसी ब्रांड की इमेज को बेहतर बनाने का कार्य करते हैं। इन दिनों बड़ी ही नहीं छोटी कंपनियां और सर्विस प्रोवाइडर्स भी ऑनलाइन मार्केटिंग में एक्टिव हैं। आइए जानते हैं, कैसे ऑनलाइन मार्केटिंग के क्षेत्र में करियर बनाया जा सकता है? साथ ही जानिए एमिटी बिजनेस स्कूल के डायरेक्टर डॉ. संजीव बंसल के एक्सपर्ट व्यूज...

भारत ऑनलाइन एडवरटाइजिंग, सोशल मीडिया और वेबसाइट डिजाइन सहित कई अन्य सेवाओं के लिए ‘डिजिटल आउटसोर्सिंग हब’ के रूप में तेजी से उभर रहा है। हाल के वर्षों में कंपनियों और यूजर्स दोनों का फोकस डिजिटल मीडियम की तरफ तेजी से बढ़ा है। इसके साथ ई-कॉमर्स बिजनेस के तेजी से विस्तार, इंटरनेट और मोबाइल फोन के बढ़ते इस्तेमाल की वजह से डिजिटल मार्केटिंग मैनेजर की जरूरत बढ़ गई है।

दरअसल, डिजिटल मार्केटिंग आज ऑनलाइन मार्केटिंग करने का आसान जरिया है। इसके जरिए ऑनलाइन माध्यम से प्रोडक्ट्स आदि की मार्केटिंग की जाती है। अब कंपनियां बिजनेस बढ़ाने के लिए इंटरनेट और सोशल मीडिया प्लेटफार्म को तेजी से अपना रही हैं। इसके चलते इस क्षेत्र में जॉब के नए अवसर पैदा हो रहे हैं। हालांकि नौकरियों की मांग के अनुरूप स्किल्ड लोगों की कमी है।

आजकल हर ब्रांड के पास अपनी डिजिटल मार्केटिंग स्ट्रेटेजी है और इसे पेश करने के लिए लोगों की नियुक्तियां कर रही हैं। इंटरनेट एंड मोबाइल एसोसिएशन ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट की मानें, तो इस नए उभरते डिजिटल मार्केटिंग फील्ड में करीब आने वाले कुछ वर्षों में लाखों नई नौकरियों के पैदा होने की संभावनाएं हैं।

क्या है डिजिटल मार्केटिंग

डिजिटल मार्केटिंग इंटरनेट, कंप्यूटर और इलेक्ट्रॉनिक मीडिया के जरिए की जाने वाली मार्केटिंग है। इसे ऑनलाइन मार्केटिंग भी कह सकते हैं। डिजिटल मार्केटिंग में सोशल मीडिया, मोबाइल, ई-मेल, सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन (एसइओ) आदि को टूल की तरह इस्तेमाल किया जाता है। इसमें आप अपने इंटरेस्ट को देखते हुए आगे बढ़ सकते हैं और अच्छी कमाई कर सकते हैं। इसमें खुद को हमेशा ही अपडेट करते रहना पड़ता है।

ऐसे मिलेगी एंट्री

डिजिटल मार्केटिंग के क्षेत्र में करियर बनाने के लिए मार्केटिंग, आइटी, पर्सनल रिलेशन, एडवर्टाइजिंग या सेल्स में डिग्री या डिप्लोमा की जरूरत है। कई संस्थान डिजिटल मार्केटिंग और सोशल मीडिया मार्केटिंग के लिए पीजी डिप्लोमा और एग्जीक्यूटिव डिप्लोमा जैसे स्पेशलाइज्ड कोर्स भी ऑफर कर रहे हैं। पीजी लेवल के इस तरह के कोर्स में एंट्री के लिए कैंडिडेट्स का ग्रेजुएट होना जरूरी है।

जो स्टूडेंट्स मार्केटिंग, मास कम्युनिकेशन या फिर ग्राफिक डिजाइन में ग्रेजुएट हैं, उनके लिए यह कोर्स ज्यादा फायदेमंद साबित हो सकता है। कोर्स के दौरान स्टूडेंट्स को टार्गेट मार्केट आइडेंटिफिकेशन, एडवर्टाइजिंग स्ट्रेटेजी, मार्केटिंग कैंपेन एनालिसिस, कम्युनिकेशन स्ट्रेटेजी, सर्च इंजन मार्केटिंग, सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन, सोशल मीडिया मार्केटिंग तथा कंटेंट राइटिंग जैसे विभिन्न महत्वपूर्ण विषयों की जानकारी दी जाती है।

वर्क प्रोफाइल

डिजिटल मार्केटिंग प्रोफेशनल्स पर डिजिटल मार्केटिंग कंटेंट तैयार करने की जिम्मेदारी होती है। कंपनी के लिए यह प्रोफेशनल वेब बैनर एड, ई-मेल्स और वेबसाइट्स के जरिए ब्रांडिंग करते हैं। इंटरनेट और डिजिटल टेक्नोलॉजी के लिए मार्केटिंग कैंपेन तैयार करते हैं, जिसे मोबाइल फोन और सोशल मीडिया के जरिए प्रचारित-प्रसारित किया जाता है। इस फील्ड में काम करने वाले प्रोफेशनल्स की कम्युनिकेशन स्किल और इंटरनेट स्किल बहुत अच्छी होनी जरूरी है। इन्हें डायरेक्ट सेल्स और सभी डिजिटल मार्केटिंग प्लेटफॉर्म्स की भी अच्छी समझ होनी जरूरी है।

पर्सनल स्किल्स

डिजिटल मार्केटिंग में कामयाब होने के लिए आपमें मार्केटिंग और डिजिटल मीडिया के इस्तेमाल की अच्छी समझ होना जरूरी है। इसके लिए आपको अच्छे तकनीक स्किल की जरूरत होगी। तकनीकी कुशलता का मतलब आपको वेब डिजाइन, सोशल मीडिया और वेब संबंधी सॉफ्टवेयर का अच्छा नॉलेज होना चाहिए। साथ ही नए-नए सॉफ्टवेयर्स से अपडेट रहना होगा। इस फील्ड में आने के लिए आपमें अच्छी कम्युनिकेशन स्किल भी होनी चाहिए। चूंकि यह एक डिजिटल प्रोफेशन है, इसलिए आपको घंटों कंप्यूटर पर बैठने के लिए भी मानसिक रूप से तैयार रहना होगा।

जॉब्स के अवसर

आज मार्केटिंग के तौर तरीके पहले से काफी बदल चुके हैं। ऐसे में इस डिजिटल युग में ऑनलाइन जॉब्स की कोई कमी नहीं है। इस क्षेत्र में आप सर्च और नेट सर्फिंग की समझ रखकर एसइओ (सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन) मार्केटिंग, सोशल मीडिया मार्केटिंग, मोबाइल मार्केटिंग, ई-मेल मार्केटिंग, डिजाइनर, डाटा एनालिस्ट और वेब एनालिस्ट, कंटेंट राइटर, कंज्यूमर रिलेशन मैनेजमेंट जैसे किसी भी फील्ड में स्पेशलाइजेशन हासिल कर अपना करियर बना सकते हैं।

ऐसे लोगों की आज हर छोटी-बड़ी कंपनी में जरूरत है, क्योंकि अमूमन सभी कंपनियां अपनी ऑनलाइन उपस्थिति बढ़ाने के लिए खुद की डिजिटल मार्केटिंग टीम बना रही हैं। इसके अलावा, डिजिटल मार्केटिंग एजेंसीज से लेकर फ्लिपकार्ट, अमेजन, बिग बॉस्केट, मेकमाइट्रिप, बुकमाइशो, पेटीएम जैसी ई-कॉमर्स कंपनियों में भी अपने लिए नौकरी तलाश सकते हैं।

इंटरनेट आधारित प्राइवेट टैक्सी सर्विस कंपनियों में भी ऐसे लोगों की काफी मांग है। इसके अलावा, आप खुद की मार्केटिंग कंपनी खोल सकते हैं या फिर फ्रीलांस भी कर सकते हैं। ऑफलाइन जो भी मार्केटिंग की जाती है, अब ऑनलाइन मार्केटिंग में भी शामिल हो गई है। इंटरनेट मार्केटिंग उन जॉब्स में से एक है, जो आने वाले समय में बहुत ग्रो करेगा।

सैलरी पैकेज

डिजिटल मार्केटिंग नए दौर का तकनीकी करियर फील्ड है और जरूरत के अनुसार इस फील्ड में अभी उतने एक्सपर्ट प्रोफेशनल भी नहीं हैं। इसलिए इनकी सैलरी भी अभी काफी आकर्षक है। इस फील्ड में फ्रेशर प्रोफेशनल को भी शुरुआत में 20 से 25 हजार रुपए प्रति माह की सैलरी आसानी से मिल जाती है, जो एक से दो साल के अनुभव के बाद 30 से 50 हजार रुपए तक प्रतिमाह कमाते हैं। वहीं, 5-7 वर्षों के अनुभव वाले प्रोफेशनल्स को इस फील्ड में सालाना 10 से 12 लाख रुपए तक का पैकेज मिल रहा है।

ऑनलाइन मार्केटिंग इंस्टीट्यूट्स

-आईएमसीइंडिया, दिल्ली

वेबसाइट- www.imcindia.org

-भारतीय विद्या भवन, नई दिल्ली

वेबसाइट- www.bvbdelhi.org

-टीजीसी एनिमेशन एंड मल्टीमीडिया, नई दिल्ली

वेबसाइट- www.tgcindia.com

-एसपी जैन स्कूल ऑफ ग्लोबल मैनेजमेंट, मुंबई

वेबसाइट- www.spjan.org

(एक्सपर्ट व्यू, डॉ. संजीव बंसल, डायरेक्टर एमिटी बिजनेस स्कूल)

ऑनलाइन मार्केटिंग में अवसर हैं बेशुमार

पिछले दस सालों में मार्केटिंग के क्षेत्र में काफी बदलाव आए हैं। यह क्षेत्र पूर्ण रूप से विकसित हुआ है। आज के कंज्यूमर पहले से अधिक समझदार हो गए हैं, जो प्रोडक्ट की गुणवत्ता और दाम के संदर्भ में जानकारी जुटाने के बाद ही उसे खरीदते हैं। ऐसे में कंपनियों को अपने उत्पाद या सेवाएं बेचने के लिए और भी अधिक मार्केटिंग एक्सपर्ट की आवश्यकता है और यही मार्केटिंग के क्षेत्र के बदलाव का मुख्य कारक बना।

पिछले दस सालों में घर-घर जाकर या दुकानों के माध्यम से प्रोडक्ट बेचने की जगह ऑनलाइन मार्केटिंग, इंटरनेट मार्केटिंग, मोबाइल मार्केटिंग ले रहा है। ऐसे में बढ़ती इंटरनेट की उपलब्धता आज छोटे शहरों और ग्रामीण क्षेत्रों में ऑनलाइन खरीदारी के अवसर प्रदान कर रहे हैं, जो मार्केटिंग के क्षेत्र में एक बहुत बड़ा बदलाव है। भारत में डिजिटल मार्केटिंग का कॉन्सेप्ट भी तेजी से आगे बढ़ रहा है।

दरअसल, डिजिटल मार्केटिंग ऑनलाइन मार्केटिंग का ही तरीका है, जो ऑनलाइन तरीके से लोगों तक पहुंच बनाने में मदद करता है। यह पारंपरिक मार्केटिंग का ही डिजिटल रूप है। डिजिटल मार्केटिंग में कंज्यूमर को वेबसाइट और डिजिटल कंटेंट की तरफ आकर्षित करना होता है। इन दिनों डिजिटल मार्केटिंग एक्सपर्ट्स की मांग काफी बढ़ गई है,

क्योंकि कंपनियां डिजिटल तरीके से प्रोडक्ट की मार्केटिंग पर काफी फोकस करने लगी हैं। मार्केटिंग की डिग्री के साथ जो स्टूडेंट टेक सेवी हैं, उनके लिए यहां बेहतरीन और बेशुमार मौके हैं। डिजिटल मार्केटिंग में सैलरी भी काफी अच्छी मिलती है।

Next Story
Top