logo
Breaking

NEET 2018: CBSE ने दिया मौका, 16 मार्च तक सुधार सकते हैं ऐप्लिकशन की गलतियां

मेडिकल कोर्स में दाखिले के लिए आयोजित होने वाले नीट 2018 के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया 12 मार्च यानी को बंद हो गई है।

NEET 2018: CBSE ने दिया मौका, 16 मार्च तक सुधार सकते हैं ऐप्लिकशन की गलतियां

मेडिकल कोर्स में दाखिले के लिए आयोजित होने वाले नीट 2018 के लिए रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया 12 मार्च यानी को बंद हो गई है। नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (नीट) के आवेदन की प्रक्रिया 8 फरवरी, 2018 से शुरू हुई थी।

अगर आवेदन फॉर्म में किसी तरह की गलती रह गई है तो उसे छात्र 16 मार्च शाम 5 बजे तक सही कर सकते हैं। सीबीएसई फॉर्म में दी गई गलत जानकारी को सही करने का मौका दे रहा है। परीक्षा का आयोजन 6 मई, 2018 को होगा।

यह भी पढ़ेंः UGC Net Exam 2018: एग्जाम पैटर्न में किए बड़े बदलाव

सारी भाषा में एक ही सेट

पिछले साल कुछ छात्रों ने अलग-अलग भाषा में अलग-अलग क्वेस्चन सेट और कठिनाई स्तर होने की शिकायत की थी। छात्रों का कहना था कि हिंदी और इंग्लिश के मुकाबले क्षेत्रीय भाषा के प्रश्नपत्र काफी कठिन थे।

इस बार सभी भाषाओं यानी हिंदी और इंग्लिश के अलावा क्षेत्रीय भाषाओं में प्रश्न पत्र के सेट एक ही होंगे, इसलिए छात्र अपनी पसंद की भाषा का चुनाव कर सकते हैं।

यह भी पढ़ेंः CBSE का फरमान: गणित और बायो के स्टूडेंट्स नहीं दे सकेंगे NEET Exam

बिना आधार दे सकेंगे परीक्षा

शुरू में एनआईओएस और ओपन के स्टूडेंट्स को परीक्षा देने के अधिकार से वंचित कर दिया गया था। छात्रों के विरोध के बाद एनआईओएस एवं ओपन के स्टूडेंट्स को परीक्षा देने की अनुमति मिली।

नीट आवेदन के लिए शुरू में आधार कार्ड या आधार नंबर को अनिवार्य करार दिया गया था लेकिन बाद में इसकी अनिवार्यता समाप्त कर दी गई। इसके बिना भी छात्र परीक्षा में बैठ सकेंगे।

Share it
Top