Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

मुन्नाभाईयों को रोकने के लिए सीबीएसई ने निकाला तोड़, माइक्रोसॉफ्ट के साथ मिलकर बनाया ये सॉफ्टवेयर

आए दिन परीक्षाओं के दौरान पेपर लीक होने की घटनाएं रोकने के लिए माइक्रोसॉफ्ट ने केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के साथ मिलकर एक सॉफ्टवेयर तैयार किया है।

मुन्नाभाईयों को रोकने के लिए सीबीएसई ने निकाला तोड़, माइक्रोसॉफ्ट के साथ मिलकर बनाया ये सॉफ्टवेयर

आए दिन परीक्षाओं के दौरान पेपर लीक होने की घटनाएं रोकने के लिए माइक्रोसॉफ्ट ने केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) के साथ मिलकर एक सॉफ्टवेयर तैयार किया है।

सीबीएसई ने इसका परीक्षण इस साल हुई 10वीं क्लास की सप्लीमेंट्री परीक्षा के दौरान के 487 परीक्षा केंद्रों पर किया गया। यह परीक्षण 4,000 परीक्षार्थियों पर किया था। अभी भी परीक्षण चल रहा है।

माइक्रोसॉफ्ट ने बताया है कि इस सिस्टम को तीन महीने में तैयार किया गया है। सीबीएसई नई प्रक्रिया के तहत परीक्षा केंद्रों को ई-मेल के द्वारा सॉफ्टवेयर की लिंक भेजेगा। इस लिंक में ही पेपर होगा, जो सिर्फ परीक्षा केंद्रों पर डाउनलोड किया जाएगा।

यह भी पढ़ेंः NEET 2018: डेटा लीक मामले में राहुल गांधी ने CBSE को लिखा पत्र, डेटा लीक रोकने के लिए सुरक्षा उपायों की मांग

माइक्रोसॉफ्ट इंडिया के एमडी ने बताया है कि यह लिंक परीक्षा केंद्रों पर एग्जाम समय से 30 मिनट पहले भेजा जाएगा। परीक्षा केंद्र पर इसे डाउनलोड कर परीक्षार्थियों को बांटा जाएगा।

आपको बता दें कि साल 2018 में10वीं और 12वीं के गणित और इकोनॉमिक्स पेपर लीक हुआ था जिससे सीबीएसई पर बहुत सवाल खड़े हुए थे, इस लिए सीबीएसई ने माइक्रोसॉफ्ट की सहायता से यह सॉफ्टवेयर तैयार किया है

Next Story
Top