Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

MP बोर्ड की बारहवीं की स्थगित परीक्षाएं आज से शुरु हुई

कोरोना वायरस की वजह से परीक्षा में बहुत ही ज्यादा सावधानी बरती जा रही है। इसके लिए काफी सारे बड़े बदलाव किये गए है ताकि बच्चों की सुरक्षा रहे। पहली में पाली सुबह 9 बजे केमेस्ट्री और दूसरी पाली में दोपहर 2 बजे से भूगोल का पेपर है।

विद्यार्थियों को परीक्षा के दौरान आने बाले बडे प्रश्नों से मिलेगा निजात, प्रश्नों के पैटर्न में बदलाव की तैयारी
X

माध्यमिक शिक्षा मण्डल मध्यप्रदेश (प्रतीकात्मक फोटो)

MP बोर्ड की 12वी कक्षा की स्थगित परीक्षा मंगलवार से यानि की आज से शुरू हो चुकी है। इस परीक्षा में लगभग साढ़े 8 लाख स्टूडेंट्स हिस्सा ले रहे है। भोपाल में 97 परीक्षा केंद्रों पर परीक्षार्थी परीक्षा में शामिल हो रहे हैं। लगभग 3682 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।

कोरोना वायरस की वजह से परीक्षा में बहुत ही ज्यादा सावधानी बरती जा रही है। इसके लिए काफी सारे बड़े बदलाव किये गए है ताकि बच्चों की सुरक्षा रहे। इसमें सोशल डिस्टन्सिंग पूरी तरह से बनायीं जाएगी। कम से कम स्टूडेंट्स के बीच डेढ़ मीटर की दुरी रखी जाएगी।

परीक्षा केंद्रों पर सभी को मास्क लगाना जरुरी होगा। परीक्षा केंद्र पर एंट्री से पहले छात्रों की थर्मल स्क्रीनिंग की जाएगी। सर्दी, खांसी, बुखार वाले परीक्षार्थियों के लिए अलग से आइसोलेशन रूम बनाए गए हैं। जिनमें वो वही बैठ कर एग्जाम देंगे।

एग्जाम सेंटर तक जाने के लिए गोले बनाये गए है। जिनका पालन हर स्टूडेंट को करना होगा। परीक्षा की पहली में पाली सुबह 9 बजे केमेस्ट्री और दूसरी पाली में दोपहर 2 बजे से भूगोल का पेपर है। परीक्षार्थियों को परीक्षा केंद्र पर 1 घंटे पहले पहुंचना होगा। आपको बता दें कि कोरोना वायरस और लॉकडाउन के चलते परीक्षाओं को बीच में ही रोक दिया गया था।

परीक्षा केंद्रों पर एक क्लास में केवल 7 या 8 विद्यार्थी ही बैठेंगे और वो भी कुछ मीटर की दूरियों पर। कक्षा में घुसने से पहले सबको अपने हाथों को सैनिटाइज करना होगा। चाहे तो विद्यार्थी अपने साथ भी सेनेटाइजर ला सकते है। परीक्षा खत्म होने के बाद बाद पूरे परीक्षा केंद्र को सैनिटाइज किया जाएगा।

MP बोर्ड ने कहा है कि कन्टेनमेंट जोन वाले विद्यार्थी परीक्षा दे सकते है। परन्तु जिस छात्र के परिवार में कोई भी कोरोना का पेशेंट या कोई क्‍वारंटाइन है। वह भी इस परीक्षा में शामिल नहीं होगा। ऐसे विद्यार्थियों को 16 जून के बाद अलग से परीक्षा देनी होगी। शामिल होने से पहले विद्यार्थी को अपने और अपने परिवार का कोरोना फिटनेस सर्टिफिकेट दिखाना होगा।

Next Story