logo
Breaking

JEE Main 2018 : जेईई मेन में साल 2018 में हुए ये बदलाव

इंजीनियरिंग कॉलेजों एवं आईआईटी में प्रवेश के लिए होन वाले ज्वॉइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन (जेईई) परीक्षा 6 जनवरी से 20 तक आयोजित की जाएंगी। साल 2018 में जेईई मेन परीक्षा (JEE Main Exam) में कई बड़े बदलाव हुए है।

JEE Main 2018 : जेईई मेन में साल 2018 में हुए ये बदलाव

इंजीनियरिंग कॉलेजों एवं आईआईटी में प्रवेश के लिए होन वाले ज्वॉइंट एंट्रेंस एग्जामिनेशन (Joint Entrance Examination) जेईई परीक्षा (Jee Exam) 6 जनवरी से 20 तक आयोजित की जाएंगी। साल 2018 में जेईई मेन परीक्षा (JEE Main Exam) में कई बड़े बदलाव हुए है।

इस बार जेईई मेन परीक्षा (JEE Main Exam) कंप्यूटर आधारित होगी। जेईई मेन परीक्षा 2019 (JEE Main Exam 2019) 14 दिन चलेगी और जेईई मेन ( JEE Main) साल में दो बार आयोजित कराई जाएगी। अब दोनों परीक्षाओं में छात्र शामिल हो सकते हैं।

इससे छात्रों को काफी लाभ मिलेगा क्योंकि छात्र किसी वजह से जेईई मेन परीक्षा (JEE Main Exam) शामिल नहीं हो पाया या पेपर खराब हो गया तो उसका साल खराब नहीं होगा और इसे सुधारने का एक है मौका मिलेगा।

JEE Main परीक्षा के एडमिट कार्ड का ये रहा डाउनलोड करने का Direct Link

जेईई मेन परीक्षा (JEE Main Exam) के उम्मीदवार की आयु 17 से 25 साल होनी चाहिए और समान्य वर्ग के छात्र को 1400 रुपए और बाकी आरक्षित वर्ग के छात्रों को 750 रुपए फीस का भुगतान करना होगा।

जेईई मेंन (JEE Main) परीक्षा की रैंकिंग में बदलाव किया गया है। जेईई मेंन परीक्षा की रैंकिंग (JEE Main Exam Ranking) में पहले प्राप्त अंकों के आधार पर बनाई जाती थी लेकिन अब छात्र के पर्सेंटाइल स्कोर कार्ड पर बनाया जाएगा।

जेईई मेन 2019 एडमिट कार्ड डाउनलोड करने पूरी प्रक्रिया, यहां से करें डाउनलोड

साल 2018 में जेईई मेन परीक्षा में बदलाव (JEE Main Exam)

जेईई मेन परीक्षा (JEE Main Exam) में शामिल होने वाले उम्मीदवारों को 12वीं कक्षा के रोल नंबर को वेरिफाई कराने की जरूरत नहीं होगी।

जेईई मेन परीक्षा (JEE Main Exam) कम्प्यूटर आधारित (सीबीटी) होगी।

जेईई मेन ऑनलाइन परीक्षा के लिए उम्मीदवार अपना स्लॉट बुक करा सकते हैं।

जेईई मेन परीक्षा (JEE Main Exam) पास करने उम्मीदवारों में से टॉप 2,24,000 उम्मीदवार जेईई अडवांस्ड में शामिल होंगे।

जेईई मेन परीक्षा (JEE Main Exam) अब साल में दो बार (जनवरी और अप्रैल) आयोजित कराई जाएगी।

जेईई मेन परीक्षा (JEE Main Exam) में डायबीटीज पीड़ित उम्मीदवार परीक्षा केंद्र पर शुगर टेबल, फल और पानी की पारदर्शी बोतल ले जा सकते हैं।

जेईई मेन परीक्षा (JEE Main Exam) के लिए एनटीए ने 2,697 अभ्यास केंद्र बनाए हैं जो इसकी ऑफिशल वेबसाइट पर 1 दिसंबर से उपलब्ध है।

जेईई मेन परीक्षा (JEE Main Exam) के उम्मीदवार अब दोनों बार आयोजित होने वाली परीक्षा में बैठ सकते हैं।

जेईई मेन परीक्षा 2019 (JEE Main Exam 2019) 14 दिनों तक होंगी और इसके प्रतिदिन कई सत्र होंगे।

Share it
Top