Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

इस दस्तावेज के बिना अब नहीं दे पाएंगे IIT JEE की परीक्षा

साल 2017 से जेईई की रैंकिंग में 12वीं के अंक भी नहीं जुड़ेंगे।

इस दस्तावेज के बिना अब नहीं दे पाएंगे IIT JEE की परीक्षा
नई दिल्ली. अगले वर्ष 2017 से आइआइटी ज्वाइंट एंट्रेंस एग्जाम (IIT JEE) मेन की परीक्षा के लिए परीक्षार्थियों को एक दस्तावेज की जरुरत पड़ने वाली है। इस दस्तावेज के बिना आपको इस परीक्षा में बैठने नहीं दिया जाएगा। जी हां- IIT JEE मेन की परीक्षा देने वालों के लिए अब आधार कार्ड अनिवार्य होगा। इसके बिना पीरक्षार्थी को किसी भी कीमत पर परीक्षा में नहीं बैठने दिया जाएगा।
दरअसल सीबीएसई ने अपने जारी किए गए एक सर्कुलक में यह जानकारी दी है जिसके तहत यह नियम हैलेकिन इसके साथ ही जम्‍मू-कश्‍मीर, आसाम और मेघालय के छात्रों को इससे छूट मिलेगी।
सीबीएसई के नए सर्कुलकर में कहा गया है कि आइआइटी जेईई मेन के लिए ऑनलाइन एप्लिकेशन भरने के समय आधार कार्ड का एनरोलमेंट आइडी देना आवश्‍यक होगा। इसके बारे में विस्‍तार से जानकारी 1 दिसंबर को सीबीएसई अपनी वेबसाइट पर जारी करेगी।
जेईई एडवांस्‍ड 2017 का पूरा शेड्यूल
जिन अभ्‍यर्थियों के पास पहले से आधार कार्ड है वे ऑनलाइन जाकर उसकी डिटेल्‍स को अपडेट कर सकते हैं। सीबीएसई ने कहा है कि जिनके पास आधार कोर्ड नहीं है वे इसके लिए एप्‍लाई कर सकते हैं।
आपको बता दें कि साल 2017 से जेईई की रैंकिंग में 12वीं के अंक भी नहीं जुड़ेंगे। गौरतलब है कि ज्‍वाइंट एंट्रेंस एग्‍जामिनेशन मेन 2017 का आयोजन सीबीएसई, 2 अप्रैल 2017 को करेगी। सीबीएसई ने यह भी कहा है कि जम्‍मू-कश्‍मीर, असम और मेघालय के परीक्षार्थी आईडी के तौर पर पासपोर्ट नंबर, राशन कार्ड नंबर, बैंक अकाउंट नंबर या अन्‍य सरकारी दस्‍तावेज दे सकेंगे। लेकिन बाकी राज्‍यों के बच्‍चों को आधार कार्ड देना अनिवार्य होगा।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top