Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

GATE Result 2019: गेट 2019 में तीसरी रैंक हासिल करने वाले ओमप्रकाश ने कहा''नोट्स पर फोकस करना पर्याप्त''

आईआईटी मद्रास (IIT Madras) ने शुक्रवार को गेट 2019 (GATE 2019) के नतीजों की घोषणा कर दी है। आईआईटी मद्रास (IIT Madras) ने तय समय से पहले रिजल्ट की घोषणा की है।

GATE Result 2019: गेट 2019 में तीसरी रैंक हासिल करने वाले ओमप्रकाश ने कहा

GATE Result 2019: आईआईटी मद्रास (IIT Madras) ने शुक्रवार को गेट 2019 (GATE 2019) के नतीजों की घोषणा कर दी है। आईआईटी मद्रास (IIT Madras) ने तय समय से पहले रिजल्ट की घोषणा की है। ऑफिशल नोटिफिकेशन के मुताबिक गेट रिजल्ट 2019 (GATE Result 2019) की घोषणा 16 मार्च को होनी थी।

हालांकि हमेशा ही गेट का तय समय से पहले रिजल्ट घोषित करने का ट्रेंड रहा है और इस बार भी ऐसा ही हुआ। नतीजे आईआईटी मद्रास की ऑफिशल वेबसाइट Gate.iitm.ac.in पर जाकर देख सकते हैं। गेट 2019 (GATE 2019) का आयोजन आईआईटी मद्रास (IIT Madras) ने फरवरी में किया था। गेट एग्जाम (GATE Exam) का स्कोर अगले तीन सालों तक वैध रहता है।

गेट का परिणाम आप अपने लॉगिन आईडी और पासवर्ड से ही देख पाएंगे। गौरतलब है, परीक्षा में सफल होने वाले आवेदक आईआईटी (IIT) और अन्य प्रतिष्ठित संस्थानों के पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स में दाखिले के हकदार होते हैं। इसके अलावा कई बड़ी सरकारी और निजी कंपनियों में भी गेट के स्कोर कार्ड के जरिए ही पद प्रदान किए जाते हैं।

एनआईटी रायपुर के छात्र रहे ओमप्रकाश ने माइनिंग डिपार्टमेंट में पूरे भारत में तीसरा स्थान प्राप्त किया है। एनआईटी रायपुर से पढ़ाई करने के बाद ओमप्रकाश बनारस हिंदू यूनिवर्सिटी से एमटेक कर रहे हैं। पिछले साल उन्हें 95वीं रैंक मिली थी। टॉप-95 में रहने के बाद भी ओमप्रकाश अपने प्रदर्शन से असंतुष्ट रहे और दोबारा परीक्षा दी।

हरिभूमि से विशेष बातचीत में ओमप्रकाश ने बताया कि इस वर्ष अच्छी रैंक आने के बाद अब पीएसयू के तहत जॉब ऑफर हो जाएगा। सेल और एनटीपीसी वाले गेट क्वालीफाई को जॉब ऑफर करते हैं। मैं एमटेक कर रहा हूं, लेकिन मेरी प्राथमिकता पीएसयू की जॉब रही है, इसलिए दोबारा गेट दिया।स्टडी टिप्स साझा करते हुए उन्होंने कहा कि नोट्स पर फोकस करना पर्याप्त है। मुझे एक साल का अनुभव था, तो मैंने अपनी कमियों को ध्यान में रखते हुए पढ़ाई की। ओमप्रकाश के पापा रामगोपाल एसीसीएल कंपनी में जॉब कर रहे हैं, जबकि मम्मी हाउसवाइफ हैं।

रायपुर एनआईटी में आर्किटेक्चर में फाइनल एयर की पढ़ाई कर रही निधि गोलछा ने गेट में ऑल ओवर इंडिया में 8वां रैंक हासिल किया है। बातचीत के दौरान निधि ने बताया, यह मेरा पहला अटैंप था। गेट के लिए मैंने कही से कोचिंग नहीं की थी।खुद से दिन में 8 से 9 घंटे की पढ़ाई किया करती थी। निधि ने बताया, गेट के लिए परिवार वालों का पूरा स्पोर्ट रहा। मैं आगे आर्किटेक्चर क्षेत्र में अपना भविष्य बनाना चाहती हूं। निधि मूलत: राजनांदगांव रहने वाली हैं। पिता संजय गोलछा एक निजी स्कूल के डायरेक्टर हैं।

इन्हें भी मिले अच्छे अंक

आयुष त्रिपाठी - 72 रैंक

रौशन कुमार -75 रैंक

विकास चौधरी - 112 रैंक

अंजली अग्रवाल - 205 रैंक

भानु प्रताप वर्मा - 276 रैंक

अनवेश पांडा - 315 रैंक

शुभंकर दास - 351

मोहित अग्रवाल - 417 रैंक

अभिनंदन जैन - 468

विपिन कुमार पटेल - 736 रैंक

Next Story
Top