Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

जॉब फेयर 2018: 6600 युवाओं को मिली नौकरी

भारत देश में इस समय सबसे बड़ी समस्या बेरोजगारी है। लाखों युवा ग्रेजुएशन पूरा कर के बावजूद उनके पास नौकरी नहीं होती है।

जॉब फेयर 2018: 6600 युवाओं को मिली नौकरी

भारत देश में इस समय सबसे बड़ी समस्या बेरोजगारी है। लाखों युवा ग्रेजुएशन पूरा कर के बावजूद उनके पास नौकरी नहीं होती है। लोगों के लिए दिल्ली सरकार लगातार तीन साल से रोजगार मेला लगा रही है।

इस बार मेले मे हजारों युवा नौकरी की तलाश में पहुंचे। लेकिन अधिकतर युवा परेशान दिखाई पड रहे थे। ग्रेजुएट युवाओं का कहना है कि वो बहुत उम्मीद से नौकरी पाने के लिए आए थे। लेकिन युवाओं को उनके हिसाब से नौकरी नहीं मिली है।

बीकॉम, बीटेक, बीसीए और बीबीए सभी फील्ड के युवा नौकरी पाने के लिए इस मेले में आए थे परन्तु मेले में अधिकतर जॉब कॉल सेन्टर और सेलस् में थी।

इस तरह की नौकरी करने के लिए युवाओं 10वीं या 12वीं पास होना काफी था। इस वर्ष पिछले साल से करीब 50 फीसदी कम लोग रोजगार मेले में आए।

यह भी पढ़ेंः खुशखबरी: 5 और 8 बोर्ड परीक्षाओं में फेल छात्र को मिलेगा एक और मौका

89 कंपनियों ने लिया भाग

दिल्ली सरकार के तीसरे मेले में 89 कम्पनियों ने भाग लिया है। परन्तु यह पूरी तरह साफ नहीं हो पाया है कि कितने युवाओं को नौकरी मिली है।

2017 में मिली नौकरियां

2017 के आंकड़ों के अनुसार मेले में 40 हजार युवाओं ने इंटरव्यू दिया जिसमें से 12 हज़ार युवाओं का चयन हुआ था।

2018 में मिली नौकरियां

2018 के आंकड़ों के अनुसार मेले में 21 हजार युवाओं ने इंटरव्यू दिया जिसमें से 6,600 हज़ार युवाओं का चयन हुआ है।

Next Story
Top