Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

इस कॉलेज में रक्षा अधिकारी और आईपीएस ऑफिसर को पढ़ने के लिए देने पड़ते हैं 4 लाख रुपये, जानें वजह

आज के समय में लोग अच्छे कॉलेज या दूसरे शैक्षणिक संस्थानों की फीस के बारे में बातचीत करते हैं। हमारे देश में भी ऐसा कॉलेज है जहां पर पढ़ाई करने के लिए आईएएस ऑफिसर को भी 4 लाख रुपए करना पड़ता है। इस कॉलेज में रक्षा अधिकारी और आईपीएस अफसर भी कोर्स करने के लिए आते हैं।

देश इस कॉलेज रक्षा अधिकारी और आईपीएस ऑफिसर को पढ़ने के लिए देने पड़ते हैं 4 लाख, जानें वजह
X

आज के समय में लोग अच्छे कॉलेज या दूसरे शैक्षणिक संस्थानों की फीस के बारे में बातचीत करते हैं। हमारे देश में भी ऐसा कॉलेज है जहां पर पढ़ाई करने के लिए आईएएस ऑफिसर को भी 4 लाख रुपए करना पड़ता है। इस कॉलेज में रक्षा अधिकारी और आईपीएस अफसर भी कोर्स करने के लिए आते हैं।

यह कॉलेज दिल्ली में स्थित है। जिसे भारतीय सेना का उच्च शिक्षण संस्थान माना जाता है। इस कॉलेज में रक्षा और सिविल सेवा ऑफिसर 47 सप्ताह का कोर्स करने के लिए आते हैं। 61वां राष्ट्रीय रक्षा महाविद्यालय कोर्स अगले साल जनवरी या फरवरी 2021 से शुरू होगा जो नवंबर दिसंबर 2021 तक चलेगा।

इसके लिए सभी राज्यों के सचिवों को पत्र पत्र भेजे गए हैं जिसमें 47 सप्ताह के कोर्स के लिए 2 लाख 10 हजार रुपए फीस तय की गई है। इसके अलावा देश के आंतरिक हिस्सों और विदेश के टूर कार्यक्रम के लिए 2 लाख रुपए का भुगतान करना होगा। इस कोर्स को करने वाले अधिकारी को संबंधित मंत्रालय या विभाग द्वारा 5 हजार रुपए बतौर हॉक अलाउंस दिए जाते हैं।

इस कोर्स के दौरान अधिकारियों को रक्षा रणनीति के हिसाब से आर्थिक, वैज्ञानिक, औद्योगिक और राजनीतिक पहलुओं का प्रशिक्षण दिया जाता है। कोर्स में दाखिला लेने वाले अधिकारियों को संबंधित राज्य या केंद्रशासित प्रदेश में ऑन ड्यूटी माना जाएगा। इस कोर्स में दाखिला लेने के लिए आईएएस, आईपीएस और आईएफएस अधिकारी के पास कम से कम 14 साल का अनुभव होना चाहिए।

इस कोर्स दाखिला लेने से पहले अधिकारियों को एक फॉर्म हस्ताक्षर पड़ता है जिसमें लिखा होता है कि पांच वर्ष तक सरकारी नौकरी करेंगे और कोर्स की समाप्ति पर केंद्रीय गृह मंत्रालय, रक्षा मंत्रालय, विदेश मंत्रालय, एनएससीएस और सुरक्षा से संबंधित अन्य संगठनों में काम करने के लिए तैयार रहेंगे।

Next Story