logo
Breaking

साइबर क्राइम में बढ़ी एक्सपर्ट्स की डिमांड, करें ये कोर्स

साइबर क्राइम पर लगाम लगाने के लिए एक्सपर्ट्स की आने वाले दिनों में अच्छी खासी डिमांड होगी।

साइबर क्राइम में बढ़ी एक्सपर्ट्स की डिमांड, करें ये कोर्स
नई दिल्ली. आज लगभग हर क्षेत्र में इंटरनेट या कंप्यूटर का उपयोग होने लगा है और इस पर लोगों की निर्भरता बी लगातार बढ़ती जा रही है, लेकिन कुछ लोग इसका नाकारात्मक उपयोग करने लगे हैं। हैकर्स दूसरों के अकाउंट और महत्वपूर्ण डाटा को आसानी से उड़ा ले जाते हैं। हालांकि शुरू-शुरू के दिनों में इंटरनेट का इस्तेमाल महज रिसर्च और महत्वपूर्ण सूचनाओं को हासिल करने के उद्देश्य से ही किया जा रहा था, पर अब जिस तरह से इंटरनेट का प्रयोग तेजी से बढ़ने लगा है, कुछ उसी रफ्तार से साइबर क्राइम भी बढ़ रहा है इससे निपटने के लिए साइबर लॉ और इसके एक्सपर्ट्स की आवश्यकता महसूस की जाने लगी है।
क्या है साइबर क्राइम
पूरी दुनिया में साइबर स्पेस का अपना एक कानून है, जिसका मकसद इंटरनेट के माध्यम से होने वाले अपराधों के माध्यम पर लगाम लगाना है। इंटरनेट के जरिए अंजाम दिए जाने वाले अपराधओं के हाईटेक रूप को ही ही साइबर क्राइम कहा जाता है। इसके अंतर्गत इंटरनेट द्वारा क्रेडिट कार्ड चेरी,ब्लैकमेलिंग,स्टॉकिंग,कॉपीराइट और ट्रेडमार्क, फ्रॉड, पोर्नोग्राफी आदि जैसी आपराधिक घटनाओं को अंजाम दिया जाता है।
एक्सपर्ट्स की बढ़ती डिमांड
इन दिनों में जैसे-जैसे कंप्यूटर पर लोगों की निर्भरता बढ़ती जा रही है साइबर क्राइम बढ़ने की आशंका भी उसी रफ्तार से बढ़ रही है, ऐसी स्थिति में साइबर क्राइम पर लगाम लगाने के लिए एक्सपर्ट्स की आने वाले दिनों में अच्छी खासी डिमांड होगी। सामान्य कानून और पुलिस इस तरह के अपराधों से निपटने में सक्षम नहीं है साइबर क्राइम से निपटने में वे माहिर होते हैं जो साइबर लॉ के विशेषज्ञ होने के साथ-साथ साइबर क्रिमिनल्स की हाईटेक टेक्निक से भी वाकिफ होते हैं।
साइबर की दुनिया में ऐसे लें एंट्री
अगर आप साइबर एक्सपर्ट बनकर साइबर क्राइम पर फंदा कसना चाहते हैं तो 12वीं के बाद इस तरह के कोर्स में एडमिशन ले सकते हैं। कानून,टेक्नॉलजी,मैनेजमेंट अकाउंट आदि क्षेत्रों से जुड़े स्टूडेंट्स या पेशेवर लोग बी इस तरह के कोर्स कर सकते हैं। जिन छात्रों ने पहले ही लॉ कोर्स कर लिया है उन्हे लॉ के केवल बेसिक्स ही नहीं पढ़ने होंगे, बल्कि साइबर क्राइम और इससे निपटने के तरीके सीखने होंगे
ये है कोर्स स्ट्रक्चर
-राइट ऑफ सिटीजंस और ई-गवर्नेंस
- इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी एक्ट
-मैनेचमेंट और इससे जुड़े विषय
-लॉ ऑफ डिजिटल कॉन्ट्रैक्ट
-बौद्धिक संपदा अधिकार संबंधी मुद्दे
-साइबर लॉ से जुड़े इंटरनेशनल पहलुओं का अध्ययन
यहां से कर सकते हैं कोर्स
-सिम्बॉयोसिस सोसायटी ल कॉलेज,पुणे
- आसियान स्कूल ऑफ सायबर लॉ,पुणे
-सेंटर ऑफ डिस्टेंस एजुकेशन,हैदराबाद
-इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, इलाहाबाद
-अमेटी लॉ स्कूल, दिल्ली
-डिपार्मेंट ऑफ लॉ, दि्ल्ली यूनिवर्सिटी
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Share it
Top