Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

CG Board Exam 2019 : सीजी बोर्ड परीक्षा 2019 कल से होंगी शुरू, 3,88,320 छात्र होंगे शामिल

छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल द्वारा आयोजित दसवीं बोर्ड की परीक्षाएं शुक्रवार यानी 1 मार्च 2019 से प्रारंभ होंगी। परीक्षाओं की शुरुआत प्रथम भाषा के पर्चे से होगी। छात्र अपने माध्यम अनुसार पहले दिन विशिष्ट हिंदी, अंग्रेजी, उर्दू अथवा मराठी की परीक्षा देंगे।

CG Board Exam 2019 : सीजी बोर्ड परीक्षा 2019 कल से होंगी शुरू, 3,88,320 छात्र होंगे शामिल

CG Board Exam 2019 :

छत्तीसगढ़ माध्यमिक शिक्षा मंडल (Chhattisgarh Secondary Education Board) द्वारा आयोजित दसवीं बोर्ड की परीक्षाएं शुक्रवार यानी 1 मार्च 2019 से प्रारंभ होंगी। परीक्षाओं की शुरुआत प्रथम भाषा के पर्चे से होगी। छात्र अपने माध्यम अनुसार पहले दिन विशिष्ट हिंदी, अंग्रेजी, उर्दू अथवा मराठी की परीक्षा देंगे।

प्रदेशभर में 3,88,320 छात्र इस परीक्षा में शामिल हो रहे हैं। इनमें रायपुर जिले के छात्रों की संख्या 30,851 है। प्रदेश के 2,231 केंद्रों में दसवीं की परीक्षाएं होंगी। इनमें 126 केंद्र संवेदनशील और 60 केंद्र अति संवेदनशील हैं। रायपुर (Raipur) शहर में छात्रों के लिए 141 परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं।

पहली बार छात्रों को ओएएमआर शीट उत्तरपुस्तिका वितरित की जाएगी। इसमें छात्रों के रोल नंबर और अन्य जानकारियां पहले से ही अंकित रहेंगी, लिहाजा उत्तरपुस्तिकाओं को सावधानीपूर्वक जांचकर सभी केंद्रों में वितरित किया जा चुका है।

छात्रों को परीक्षा केंद्र में आधे घंटे पूर्व पहुंचने निर्देश दिया गया है। 9 बजे प्रवेश के बाद छात्रों को 9.05 मिनट पर उत्तरपुस्तिका वितरित की जाएगी। 20 मिनट का वक्त उन्हें उत्तरपुस्तिका को जांचने और हस्ताक्षर करने के लिए मिलेगा। 9.25 मिनट पर उन्हें प्रश्नपत्र वितरित किए जाएंगे।

प्रवेशपत्र वेबसाइट पर अपलोड

छात्रों को किसी तरह की कोई असुविधा ना हो, इसके लिए माशिम ने पूरी तैयारी कर ली है। निजी स्कूलों द्वारा गलत जानकारी भेजे जाने के कारण बड़ी संख्या में छात्रों के प्रवेशपत्र में त्रुटि सामने आई थी। प्रवेशपत्र में संशोधन के बाद माशिम ने सभी प्रवेशपत्र अपने आधिकारिक वेबसाइट पर अपलोड कर दिए हैं, जहां से प्रवेशपत्र डाउनलोड किया जा सकता है।

परीक्षा में नकल रोकने और सुचारू रूप से परीक्षा कराने उड़नदस्तों की टीम तैयार की गई है। विभिन्न जिलों में जिला शिक्षा अधिकारी और कलेक्टर द्वारा अपने स्तर पर उड़नदस्तों की टीम बनाई गई है। संवेदनशील और अति संवेदनशील केंद्रों में विशेष सुरक्षा रहेगी। रायपुर के एक भी केंद्र को को संवेदनशील अथवा अति संवेदनशील केंद्र की सूची में नहीं रखा गया है।

Next Story
Top