Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
toggle-bar

करियर एडवाइस : पेट्रोलियम के क्षेत्र इंजीनियरिंग कर बना सकते हैं करियर, जॉब छूट गई हो तो करें ये काम

पेट्रोलियम इंजीनियरिंग का डिग्री कोर्स देश के कई विश्वविद्यालयों/संस्थानों में उपलब्ध है। इनमें यूनिवर्सिटी ऑफ पेट्रोलियम एंड एनर्जी स्टडीज देहरादून, आईआईटी मुंबई, इंडियन स्कूल ऑफ माइंस धनबाद, पंडित दीनदयाल पेट्रोलियम यूनिवर्सिटी गांधी नगर प्रमुख हैं।

करियर एडवाइस : पेट्रोलियम के क्षेत्र इंजीनियरिंग कर बना सकते हैं करियर, जॉब छूट गई हो तो करें ये काम
X
करियर एडवाइस

मैं पीसीएम से इंटर कर रहा हूं। पेट्रोलियम इंजीनियर बनना चाहता हूं। इसके लिए कौन-सा कोर्स, किस संस्थान से करना चाहिए?

-अभय कुमार, डोंगरगढ़

पेट्रोलियम इंजीनियरिंग का डिग्री कोर्स देश के कई विश्वविद्यालयों/संस्थानों में उपलब्ध है। इनमें यूनिवर्सिटी ऑफ पेट्रोलियम एंड एनर्जी स्टडीज देहरादून, आईआईटी मुंबई, इंडियन स्कूल ऑफ माइंस धनबाद, पंडित दीनदयाल पेट्रोलियम यूनिवर्सिटी गांधी नगर प्रमुख हैं। पीसीएम से बारहवीं करने वाले स्टूडेंट इस कोर्स में प्रवेश ले सकते हैं। आईआईटी में दाखिला जेईई एडवांस के आधार पर होता है, जबकि विश्वविद्यालयों द्वारा संचालित कोर्स में एडमिशन के लिए उसके द्वारा आयोजित एंट्रेंस को क्वालिफाई करना होगा। प्रवेश परीक्षाओं के बारे में संबंधित संस्थानों की वेबसाइट से आवश्यक जानकारी हासिल की जा सकती है।

मैं एक मोबाइल निर्माता कंपनी में जॉब कर रहा था। हाल में छंटनी हुई और मेरी जॉब छूट गई। अब मुझे क्या करना चाहिए? कृपया गाइड करें।

-सत्यपाल, सोनीपत

देश और विदेश की ज्यादातर कंपनियों को कोरोना के कारण हुए लॉकडाउन से अपना काम-काज बंद करना पड़ा था। यह दौर लंबा चलने के कारण कुछ कंपनियों ने अपने कर्मचारियों की छंटनी की है। हालांकि महामारी कानून लागू होने और प्रधानमंत्री द्वारा नौकरी से न हटाने और सैलरी देने की अपील की गई थी। इसके बावजूद कुछ कंपनियों ने इसकी अनदेखी की है। निश्चित रूप से केंद्र और राज्य सरकार इस दिशा में जल्दी ही कुछ कदम उठाएंगी। अब जब अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए लॉकडाउन में अच्छी-खासी ढील दी जा रही है, तो ऐसे में उद्योगों को अपने उन काबिल कर्मचारियों की जरूरत फिर पड़ेगी, जिनकी उन्होंने अनदेखी कर दी थी। आपको अपनी कंपनी के टच में रहना चाहिए। साथ ही, दूसरी कंपनियों में भी संपर्क करना चाहिए। इसके अलावा, अगर आप मोबाइल इंजीनियरिंग तकनीक से जुड़े हैं, तो घर या आस-पास किसी शॉप से जुड़कर मोबाइल रिपेयरिंग का काम आरंभ कर सकते हैं। अगर आप लोगों का भरोसा जीतते हैं, तो आपका काम निश्चित रूप से चल निकलेगा।

मैं बीएससी सेकेंड ईयर में हूं। घर की स्थिति ठीक नहीं है। सरकारी जॉब करना चाहता हूं। मुझे क्या करना चाहिए?

-संदीप, ई-मेल से

तात्कालिकता के आधार पर तो कोई सरकारी नौकरी नहीं मिल सकती है, पर आप रेलवे में जॉब के लिए आरआरबी या बैंकों में नौकरी के लिए आईबीपीएस या एसबीआई द्वारा आयोजित की जाने वाली परीक्षाओं में शामिल होने का उपक्रम कर सकते हैं। देश में लॉकडाउन खुलने/इसमें ढील दिए जाने के बाद निकट भविष्य में इन संस्थानों द्वारा नियुक्तियों के लिए आवेदन मंगाए जा सकते हैं। अच्छी तैयारी करके इन परीक्षाओं को क्वालिफाई कर सकते हैं। जब तक ऐसा नहीं होता, आप स्थानीय तौर पर अपनी योग्यता के अनुरूप प्राइवेट जॉब खोज सकते हैं। इसके अलावा, अगर बच्चों को ट्यूशन/कोचिंग दे सकते हैं, तो कोचिंग संस्थाओं से संपर्क कर सकते हैं या बच्चों को घर बुलाकर या उनके यहां जाकर पढ़ा सकते हैं। इस बीच सरकारी नौकरियों के लिए होने वाली प्रतियोगिता परीक्षाओं की तैयारी भी करते रहें।

मैं इंटर बायो से कर रही हूं। एम्स दिल्ली से एमबीबीएस करना चाहती हूं। इसके लिए कैसे तैयारी करनी होगी?

-तनिमा त्रिपाठी, जबलपुर

आपको बता दें कि अब एम्स दिल्ली सहित देशभर में स्थित एम्स और उनके समकक्ष संस्थानों द्वारा संचालित एमबीबीएस कोर्स में प्रवेश भारत सरकार की संस्था एनटीए (नेशनल टेस्टिंग एजेंसी) द्वारा आयोजित 'नीट' (नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट) के आधार पर ही दिया जाता है। ऐसे में आपको 'नीट' की तैयारी पर ध्यान देना होगा। इसके लिए आप नीट की वेबसाइट https://ntaneet.nic.in/ntaneet से सिलेबस और पिछले वर्षों के प्रश्नपत्र हासिल कर सकती हैं। इससे आपको पाठ्यक्रम और पूछे जाने वाले प्रश्नों के नेचर को समझते हुए तैयारी करने में आसानी होगी।

और पढ़ें
Next Story