logo
Breaking

छत्तीसगढ़ पीएससी परीक्षा में 23 प्रतिशत अक भी नहीं ला सके उम्मीदवार, सीटें रह गई खाली

छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग को राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा पास करने वाले पात्र उम्मीदवार ही नहीं मिल पा रहें हैं। हालत यह है कि प्रदेश के युवा निर्धारित क्वालीफाइंग 23 प्रतिशत अंक तक भी नहीं पहुंच पा रहें है।

छत्तीसगढ़  पीएससी परीक्षा में 23 प्रतिशत अक भी नहीं ला सके उम्मीदवार, सीटें रह गई खाली

छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग को राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा पास करने वाले पात्र उम्मीदवार ही नहीं मिल पा रहें हैं। हालत यह है कि प्रदेश के युवा निर्धारित क्वालीफाइंग 23 प्रतिशत अंक तक भी नहीं पहुंच पा रहें है। यही कारण है कि पीएससी को प्रारंभिक परीक्षा में मुख्य परीक्षा के योग्य सफल परीक्षार्थी नहीं मिल पाए हैं।

इसलिए ही राज्य सेवा 2017 की मुख्य परीक्षा के लिए 4485 की जगह 4247 अभ्यर्थियों का चयन ही हो पाया है। जाहिर है इसके बाद मुख्य अैार फिर इंटरव्यू के बाद जब अंतिम चयन सूची बनेगी तो उसमें भी पद खाली ही जाएंगे।

छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग द्वारा राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2017 के नतीजे दो दिन पहले घोषित कर दिए गए। गौरतलब है कि पीएससी द्वारा शासन के अधीनस्थ विभागों की 18 विभिन्न सेवाओं के लिए 299 पदों पर आवेदन मंगाए गए थे।

18 फरवरी 2018 को लिखित परीक्षा आयोजित की गई थी। इसमें सफल अभ्यर्थियों को मुख्य परीक्षा में भाग लेने की पात्रता होगी। मुख्य परीक्षा की तिथि अभी घोषित नहीं की गई है। लेकिन प्रारंभिक परीक्षा में ही पीएससी को 238 योग्य उम्मीदवार नहीं मिल सके हैं।

यह भी पढ़ेंः राजस्थान का 'एजुकेशन हब' है कोटा, आईआईटी, पीईटी और नीट, की यहां से करें तैयारी

मुख्य परीक्षा में 15 गुना, इंटरव्यू के लिए 3 गुना चयन

पीएससी के अुनुसार कुल 299 पदों के लिए राज्य सेवा प्रारंभिक परीक्षा 2017 का आयोजन किया गया था। इसमें विज्ञापित पदों के 15 गुना लोगों का चयन मुख्य परीक्षा के लिए किया जाना था।

लेकिन ऐसा नहीं हो सका। प्रारंभिक परीक्षा में मुख्य परीक्षा के योग्य सफल परीक्षार्थी नहीं मिल पाए हैं। इसलिए मुख्य परीक्षा के लिए 4485 की जगह 4247 अभ्यर्थियों का चयन ही हो पाया है।

इसी तरह अब इन 4247 उम्मीदवार मुख्य परीक्षा में शामिल होंगे। इन उम्मीदवारों में इंटरव्यू के लिए कुल 299 पदों के तीन गुना 897 अभ्यर्थियों का चयन होगा। उसके बाद अंतिम चयन सूची जारी की जाएगी।

यह भी पढ़ेंः खुशखबरी SBI में निकली बंपर भर्ती, बैंक पीओ के 2000 पदों के लिए मांगे आवेदन,जाने कैसे करें अप्लाई

23 प्रतिशत न्यूनतम अंक पाना जरूरी

छत्तीसगढ़ लोक सेवा आयोग ने पीएससी की परीक्षा पास करने के लिए न्यूनतम 23 प्रतिशत अंक पाना जरूरी किया है। यह एससी, एसटी अैर अोबीसी के लिए पासिंग मार्क्स है। सामान्य वर्ग के लिए 33 प्रतिशत अंक पाना आवश्यक है।

जानकारों के मुताबिक सामान्य वर्ग के पद तो वर्गवार हर साल भरे जा रहें हैं लेकिन एसटी अैार महिलाअों में पात्र उम्मीदवार नहीं मिलने से हर साल पद रिक्त हो जाते हैं। रिक्त पद को दूसरे वर्गों से भरने का प्रावधान भी नहीं है।

कोचिंग सेंटर संचालक अनिल तिवारी के मुताबिक पीएससी ने पैटर्न बदला है उसी अनूरूप अब तैयारी का तरीका भी बदलना होगा। परंपरागत तैयारियों के साथ सी सेट पर अधिक ध्यान देना होगा।

गलतियों के बाद 9 प्रश्न हुए थे विलोपित

पीएससी 2017 की प्रारंभिक परीक्षा इस साल 18 फरवरी को प्रदेश के 16 जिलों में ली गई थी। 299 प्रशासनिक पदों के लिए निर्धारित प्रारंभिक परीक्षा में एक लाख 22 हजार 584 युवक शामिल हुए थे।

जिन पदों के लिए विज्ञापन निकाले गए हैं, उसमें डिप्टी कलेक्टर अैार डीएसपी के पद सबसे ज्यादा हैं। प्रारंभिक परीक्षा के बाद पीएससी ने दावा आपत्ति मंगाई थी। छात्रों के विरोध अैार आपत्ति के बाद पीएससी ने 9 प्रश्न विलोपित कर दिए थे।

यह सभी प्रश्न प्रथम पाली में लिए गए सामान्य अध्ययन के पेपर से थे। इसके बाद 91 प्रश्नों के आधार पर ही प्रारंभिक परीक्षा के रिजल्ट जारी किए गए हैं।

(भाषा-इनपुट)

Share it
Top