Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

बनाना चाहते हैं बेहतर कॅरियर, तो जानिए एक्सपर्ट एडवाइस

कॅरियर को बेहतर बनाने में बताए गे कई सवालों के जवाब आपकी मदद कर सकते हैं।

बनाना चाहते हैं बेहतर कॅरियर, तो जानिए एक्सपर्ट एडवाइस
नई दिल्ली. बेहतर कॅरियर की तलाश सिर्फ एक एडवाइस पर ही खत्म नहीं होती। इसके लिए आपको एक ऐसे एक्सपर्ट की मदद की जरुरत होती है जो आपके कॅरियर से जुड़े तमाम सवालों के जवाब दे सके। इसी को ध्यान में रखते हुए आज हम आपके लिए लाए हैं कॅरियर एडवाइजर ज्ञान प्रकाश द्वारा बताए गए कई सवालों के जवाब, जो आपके लिए भी बड़े काम के हो सकते हैं।
प्रदीप खुदिया, ईमेल से
सवाल- मैं 12वीं मैथ्स ग्रुप का स्टूडेंट हूं और आगे एमसीए कर सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनना चाहता हूं। कृपया इसके लिए विस्तार से गाइड करें।
जवाब- आप बीसीए और फिर एमसीए करके सॉफ्टवेयर इंजीनियर बनने की राह पर आगे बढ़ सकते हैं। हालांकि ये कोर्स आप किसी प्रतिष्ठित संस्थान से ही करें, तो बेहतर होगा, जहां इंडस्ट्री की जरुरतों के अनुसार प्रैक्टिकल नॉलेज बढ़ाने पर ज्यादा जोर दिया जाता हो। क्लासरूम लेक्चर के अलावा, खुद भी बदलती तकनीक और इंडस्ट्री की जरूरतों पर नजर रखें। इंटरनेट की सुविधा होने से यह काम आप आसानी से कर सकते हैं।
यह भी हो सकता है कि एमसीए करने के बावजूद आपको आईटी इंडस्ट्री के मुताबिक शॉर्टटर्म कोर्स संचालित करने वाले संस्थानों की मदद लेनी पड़े। आप वहां से 3 से 6 महीने का एडवांस कोर्स करके खुद को अपडेट रख सकते हैं। वहां आप रीयल प्रोजेक्ट्स पर काम करके इंडस्ट्री की व्यावहारिक जरूरतों को सरलता से समझ सकते हैं, जिसे क्लासरूम में समझना मुश्किल है।
संदीप प्रसाद, ईमेल से
सवाल- मैंने 12वीं के बाद फिटर से आईटीआई किया है। मुझे किस तरह की सरकारी या प्राइवेट जॉब मिल सकती है, कृपया मार्गदर्शन करें।
जवाब- आइटीआइ के आधार पर आप रेलवे भर्ती बोर्ड, रोडवेज आदि द्वारा निकाली जाने वाली रिक्तियों के जवाब में आवेदन कर सकते हैं। प्राइवेट इंडस्ट्रीज में भी कुशल फिटर की जरूरत होती है। आप अखबारों में उनके द्वारा निकाली जाने वाली रिक्तियों के जवाब में आवेदन कर सकते हैं। आप उनसे सीधे संपर्क करके भी नौकरी के लिए आवेदन दे सकते हैं।
मनीष पांडे, कांकेर
सवाल- मैंने सीवी रमन यूनिवर्सिटी से बीसीए किया है, अब रेग्युलर मोड से एमएससी कंप्यूटर साइंस से करना चाहता हूं। ऐसा करना करियर के लिहाज से कैसा रहेगा? क्या ओपेन यूनिवर्सिटी से बीसीए करने की वजह से गवर्नमेंट जॉब मिलने में कोई परेशानी होगी?
जवाब- ओपेन यूनिवर्सिटी और रेग्युलर यूनिवर्सिटी दोनों की डिग्री एक समान मान्य होती हे। जहां तक जॉब मिलने की बात है, तो डिग्री महज एक न्यूनतम योग्यता की शर्त है। नौकरी आपकी योग्यता/दक्षता और कॉन्फिडेंस के आधार पर मिलती है, न कि सिर्फ डिग्री के आधार पर। इसलिए जॉब मार्केट की जरुरतों और बदलती तकनीकों के मुताबिक खुद को अपडेट रखने की लगातार कोशिश करें। हायर डिग्री अच्छी नौकरी पाने में हमेशा मददगार होती है। आप खुद के प्रयास से भी अपना स्तर ऊपर उठाते रहें।
राजबीर सिंह, जींद
सवाल- मैं बीए, एमए, बीएड, जेबीटी, एचटेट, सीटेट कर चुका हूं। मैं स्पेशल एजुकेशन में बीएड या सर्टिफिकेट कोर्स करना चाहता हूं। हरियाणा में इसकी पढ़ाई कहां होती है, कृपया बताएं।
जवाब- स्पेशल एजुकेशन के लिए आप कुरुक्षेत्र यूनिवर्सिटी और रेडक्रॉस इंस्टीट्यूट ऑफ मेंटली हैंडीकैप्ड, रोहतक, हरियाणा कॉलेज ऑफ स्पेशन एजुकेशन एंड रीहैबिलिटेशन, फरीदाबाद आदि से संपर्क कर सकते हैं।
देवी राव, भिलाई
सवाल- मैं बीफार्मा कर रहा हूं। मुझे यह नहीं समझ में आ रहा है कि बेहतर करियर के लिए आगे मुझे एमबीए करना ठीक रहेगा या फिर लॉ? कृपया गाइड करें और यह भी बताएं कि एमबीए या लॉ की पढ़ाई करने के लिए देश के बेस्ट संस्थान कौन से हैं और उनमें एडमिशन कैसे होता है?
जवाब- जब आप बीफार्मा कर रहे हैं, तो बेहतर होगा कि इससे संबंधित ब्रांच में ही एमबीए करें ताकि आपको बीफार्मा सेक्टर का पूरा-पूरा लाभ मिल सके। एमबीए के लिए सर्वश्रेष्ठ संस्थान आईआईएम है, जहां एडमिशन के लिए कैट क्वालिफाई करना होता है। इसके समकक्ष संस्थानों में भी कैट स्कोर के आधार पर प्रवेश दिया जाता है। विश्वविद्यालयों द्वारा संचालित एमबीए प्रोग्राम के लिए अलग से प्रवेश परीक्षा ली जाती है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-
Next Story
Top