Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

नीट के लिए अब तीन मौके, उड़ी नींद, हजारों अयोग्य

अधिसूचना ने देशभर के लाखों स्टूडेंट्स की उम्मीदों पर पानी फेर दिया है।

नीट के लिए अब तीन मौके, उड़ी नींद, हजारों अयोग्य
भिलाई. मेडिकल प्रवेश के लिए इस साल से होने वाली राष्ट्रीय पात्रता व प्रवेश परीक्षा (नीट) की अधिसूचना ने देशभर के लाखों उम्मीदवारों की उम्मीदों पर पानी फेर दिया है। 31 जनवरी की शाम जारी इस अधिसूचना में अचानक नया नियम लागू कर 3 से ज्यादा अवसर पर देने से इंकार कर दिया गया है। अब प्रदेश स्तर पर ना तो पीएमटी नहीं होनी है ना ही राष्ट्रीय स्तर पर कोई अन्य मेडिकल प्रवेश परीक्षा होनी है।
ऐसे में चौथी बार परीक्षा में बैठने की उम्मीद लेकर नीट का फार्म भरने जा रहे लोगों की उम्मीदें धाराशायी हो गई है। इससे न सिर्फ अयोग्य घोषित परीक्षार्थी बल्कि उनके परिजन भी तनाव में है। अकेले भिलाई से ही 4 हजार से ज्यादा उम्मीदवार मेडिकल प्रवेश परीक्षा में बैठते हैं। एक अनुमान के मुताबिक इस बार चौथा अवसर लेकर भिलाई से करीब 1500 उम्मीदवार नीट में बैठने की तैयारी में थे लेकिन अब ये सभी अपात्र घोषित हो गए हैं।
उल्लेखनीय है कि शिक्षण सत्र 2017-18 में मेडिकल कॉलेजों में स्नातक पाठ्यक्रम के प्रवेश के लिए नीट की अधिसूचना 31 जनवरी को जारी की गई है। इसके लिए स्टूडेंट्स 1 मार्च तक आवेदन कर सकते हैं। परीक्षा 7 मई को होगी और 8 जून को रिजल्ट जारी किया जाएगा। छत्तीसगढ़ के लिए सिर्फ रायपुर को केंद्र बनाया गया है। इस अधिसूचना में सिर्फ तीन अवसर का प्रावधान रखा गया है।
इसमें साफ है कि मेडिकल प्रवेश के लिए अब चौथा अवसर नहीं मिल पाएगा। जबकि पिछले वर्ष तक पीएमटी व अन्य मेडिकल प्रवेश परीक्षाओं में सिर्फ आयु का बंधन था और निर्धारित आयु तक असीमित अवसर थे। अब नया नियम आने से उम्मीदवार तनाव में है। दरअसल मेडिकल फील्ड में अपना करियर बनाने के इच्छुक स्टूडेंट अक्सर बेहतर तैयारी के लिए 12 वीं पढ़ते हुए भी पीएमटी अथवा अन्य मेडिकल प्रवेश की परीक्षाएं दे देते हैं।
इसके बाद 1-2 बार और परीक्षा देकर पुख्ता तैयारियों के साथ अमूमन तीसरी अथवा चौथी बार अंतिम रूप से परीक्षा देते हैं। इससे ऐसे परीक्षाथिर्यों के लिए सफलता सुनिश्चित रहती है। लेकिन अब ऐसे सभी उम्मीदवारों को एक झटके में परीक्षा के अयोग्य घोषित कर दिया गया है।
खबरों की अपडेट पाने के लिए लाइक करें हमारे इस फेसबुक पेज को फेसबुक हरिभूमि, हमें फॉलो करें ट्विटर और पिंटरेस्‍ट पर-

और पढ़े: Haryana News | Chhattisgarh News | MP News | Aaj Ka Rashifal | Jokes | Haryana Video News | Haryana News App

Next Story
Top