logo
Breaking

हाईकोर्ट का आदेश, यूपी टीईटी शामिल होंगे बीएड डिग्रीधारी

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने भारतीय पुनर्वास परिषद नई दिल्ली (आरसीआई) के बीएड (विशेष शिक्षा) डिग्रीधारकों को राहत की बड़ी खबर दी है। अब वे उम्मीदवार भी भी यूपीटीईटी 2018 परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं।

हाईकोर्ट का आदेश, यूपी टीईटी शामिल होंगे बीएड डिग्रीधारी

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने भारतीय पुनर्वास परिषद नई दिल्ली (आरसीआई) के बीएड (विशेष शिक्षा) डिग्रीधारकों को राहत की बड़ी खबर दी है। अब वे उम्मीदवार भी भी यूपीटीईटी 2018 परीक्षा के लिए आवेदन कर सकते हैं।

इलाहाबाद हाई कोर्ट ने आदेश दिया है कि आरसीआई से बीएड करने वाले छात्र यूपी टीईटी परीक्षा में शामिल हो सकते हैं और एनसीटीई और उत्तर प्रदेश सरकार से मामले की याचिका पर जवाब मांगा है।

यह भी पढ़ेंः UPTET 2018: टीईटी उम्मीदवारों को मिला मौका, आवेदन के लिए अंतिम तारीख बढ़ी, अब इस दिन तक करें अप्लाई

न्यायमूर्ति एसडी सिंह ने आशुतोष कुमार सिंह और अन्य दस लोगों की याचिका पर सुनवाई करते यह फैसला दिया है और अगली सुनवाई 31 अक्टूबर की जाएगी।

याचिकाकर्ता ने कहा है कि आरसीआई को एनसीटीई से मान्यता प्राप्त है। एनसीटीई ने 23 अगस्त 2010 में आरसीआई से बीएड (विशेष शिक्षा) डिग्री को मान्य किया था।

यह भी पढ़ेंः UPTET 2018: उम्मीदवारों को मिली राहत, आवेदन के लिए फिर से खुलने लगी वेबसाइट

यह था मामला

एनसीटीई बीएड (विशेष शिक्षा) डिग्री को एक से पांच तक के बच्चों को पढ़ाने के लिए काबिल माना है। लेकिन उत्तर प्रदेश सरकार ने 28 जून 2018 के नोटिफिकेशन में केवल बीएड डिग्री वालों को ही यूपीटीईटी के लिए काबिल माना है।

उत्तर प्रदेश सरकार ने बीएड (विशेष शिक्षा) डिग्री धारकों को यूपी टीईटी देने की रोक दिया। आरसीआई से बीएड की डिग्री पास करने वाले छात्रों ने इस पर इलाबाद हाईकोर्ट में याचिका दायर की थी।

Share it
Top