logo
Breaking

राजस्थान में भी लागू हुआ सवर्णों के लिए 10 फीसदी आरक्षण, इन को मिलेगा आरक्षण का लाभ

राजस्थान सरकार ने सरकारी नौकरियों में आर्थिक रुप से कमजोर सवर्णों के लिए 10 फीसदी आरक्षण और साथ ही एससी, एसटी वर्ग के वर्ग के लिए क्रीमीलेयर सीमा 4 लाख 50 हजार से से बढ़ाकर 8 लाख के लिए अधिसूचना जारी कर दी है।

राजस्थान में भी लागू हुआ सवर्णों के लिए 10 फीसदी आरक्षण, इन को मिलेगा आरक्षण का लाभ

राजस्थान सरकार (Rajasthan government) ने सरकारी नौकरियों (government Jobs) में आर्थिक रुप से कमजोर सवर्णों (Upper Caste) के लिए 10 फीसदी आरक्षण (10 percent reservation) लागू कर दिया है और साथ ही एससी, एसटी वर्ग के वर्ग के लिए क्रीमीलेयर सीमा 4 लाख 50 हजार से से बढ़ाकर 8 लाख के लिए अधिसूचना जारी कर दी है।

अधिसूचना के मुताबिक 8 लाख रुपए से कम आय वाले सवर्णों को आर्थिक रूप से कमजोर माना है। जिन सवर्णों की सालाना आय 8 लाख रुपए से कम है उनको सरकारी नौकरी और शैक्षणिक संस्थाओं में दाखिले के लिए 10 फीसदी आरक्षण मिलेगा। इसमें सभी स्रोतों से होने वाली आय को जोड़ा जाएगा।

इस आरक्षण का लाभ उनको मिलेगा जिनके पास पांच एकड़ से कम खेती योग्य भूमि, नगर निगमों में 100 वर्ग गज से कम प्लॉट, एक हजार वर्ग फुट से कम फ्लैट, बड़े फ्लैट, और गैर-अधिसूचित स्थानीय निकायों में 200 वर्ग गज कम प्लॉट है।

आपको बता दें कि केंद्र सरकार ने हाल ही में लोकसभा में आर्थिक आधार कमजोर सवर्णों को 10 प्रतिशत आरक्षण देने संबंधी एक विधेयक पारित कर इसे लागू भी किया था। इसके बाद गुजरात, उत्तराखंड, झारखण्ड, हिमाचल प्रदेश, मध्य प्रदेश, महाराष्ट्र, राजस्थान समेत कई राज्य में 10 फीसदी आरक्षण को लागू कर दिया है।

Share it
Top