logo
Breaking

परीक्षा में छात्रा थी अनुपस्थित, यूनिवर्सिटी ने कर दिया पास

बीजेएमसी के पहले सेमेस्टर की परीक्षा में अनुपस्थित रही छात्रा को विवि ने पास कर दिया।

परीक्षा में छात्रा थी अनुपस्थित, यूनिवर्सिटी ने कर दिया पास

कुशाभाऊ ठाकरे पत्रकारिता एवं जनसंचार विश्वविद्यालय में प्रबंधन की भारी लापरवाही सामने आई है। बीजेएमसी के प्रथम सेमेस्टर की परीक्षा में अनुपस्थित रही छात्रा को विवि ने पास कर दिया। जब मामला सामने अाया, तो विवि प्रबंधन ने इसे त्रुटि करार देते हुए नोटिफिकेशन जारी कर दिया।

वहीं छात्रों ने विवि प्रशासन पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाते हुए कहा है, ऐसा जानबूझकर किया गया है। यदि छात्र मामले को सामने नहीं लाते, तो नोटिफिकेशन ही जारी नहीं किया जाता। इसे लेकर छात्रों ने बुधवार को विवि परिसर में विरोध-प्रदर्शन करने का फैसला किया है।

यह है मामला

बीजेएमसी के प्रथम सेमेस्टर में कुल पांच विषय होते हैं। इसमें ऑडियो-विजुअल के प्रश्नपत्र में छात्रा प्रियांशु रजवानी अनुपस्थित रही। विवि द्वारा गत दिनों जब नतीजे घोषित किए गए, तो उसे भी उत्तीर्ण कर दिया गया। जिस विषय में छात्रा अनुपस्थित थी, उसमें भी उसे नंबर प्रदान कर पास कर दिया गया। बाद में विवि के अन्य छात्रों द्वारा मामला सामने लाए जाने पर विवि ने इसे त्रुटि करार देते हुए रिजल्ट में सुधार के लिए नोटिफिकेशन जारी कर दिया।

छात्रों ने लगाए भ्रष्टाचार के आरोप

पूरे मामले के सामने आने पर छात्रों ने विवि प्रबंधन पर भ्रष्टाचार के आरोप लगाए हैं। परीक्षा संबंधी गड़बड़ियों का इस वर्ष यह पहला मामला नहीं है। बीएससी इलेक्ट्रानिक मीडिया में सिर्फ पांच छात्रों के पास होने और बीजेएमसी के नतीजों में देर पर भी छात्रों ने सवाल उठाए थे। एनएसयूआई के ग्रामीण अध्यक्ष हनी सिंह बग्गा का कहना है, नतीजों में हमेशा ही इस तरह हेर-फेर की जाती है।

लेकिन सभी मामले सामने नहीं आ पाते। पत्रकारिता विवि के कुलपति प्रो. मानसिंह परमार ने कहा कि इतनी बड़ी तकनीकी त्रुटि कैसे संभव है कि अनुपस्थित छात्रा को नंबर प्रदान कर पास कर दिया जाए। हमें मामले की जानकारी है। ऐसा तकनीकी त्रुटि की वजह से हुआ है। संबंधित छात्रा अनुपस्थित थी, इसकी जानकारी प्राप्त होते ही हमने सही रिजल्ट के लिए नोटिफिकेशन जारी कर दिया है।

Share it
Top