Web Analytics Made Easy - StatCounter
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh
Breaking

इंटर्नशिप किए बिना नहीं मिलेगी इंजीनियरिंग की डिग्री और जॉब

यह नया नियम निजी इंजीनियरिंग कॉलेजों के छात्रों को ही फोकस करते हुए तैयार किया जा रहा है।

इंटर्नशिप किए बिना नहीं मिलेगी इंजीनियरिंग की डिग्री और जॉब

एआईसीटीई ने क्वालिटी एजुकेशन और रोजगार को ध्यान में रखते हुए इंजीनियरिंग छात्रों के लिए भी अब इंटर्नशिप को जरूरी कर दिया है। इसके लागू हो जाने के बाद इंजीनियरिंग छात्रों को तब तक डिग्री नहीं मिलेगी, जब तक उन्होंने कहीं इंटर्नशिप न किया हो और इसका सर्टिफिकेट ना हासिल किया हो।

संस्था के पास जो रिपोर्ट आई है, उसके अनुसार सिर्फ 40 प्रतिशत इंजीनियर्स को ही रोजगार मिल पाता है। बचे हुए 60 प्रतिशत या तो बेरोजगार हैं या दूसरे सेक्टर में जॉब कर रहे हैं। फील्ड एक्पीरियंस न होने के कारण भी छात्रों को नौकरी मिलने में समस्याएं आ रही हैं। इंजीनियरिंग स्टूडेंट्स की क्वालिटी डेवपल करने यह फैसला लिया जा रहा है।

प्राइवेट कॉलेजों में हालत खराब

बड़ी संख्या में ऐसे निजी इंजीनियरिंग कॉलेज हैं, जहां पढ़ाई का स्तर बेहद खराब है और वे सिर्फ डिग्री देने के केंद्र बन गए हैं। एनआईटी, ट्रिपलआईटी, आईआईटी जैसे संस्थानों में अनिवार्यतया छात्रों को इंटर्नशिप करना होता है, यहां के प्लेसमेंट रिकॉर्ड अच्छे होने की यह भी एक वजह है। नया नियम निजी इंजीनियरिंग कॉलेजों के छात्रों को ही फोकस करते हुए तैयार किया जा रहा है।

फिलहाल जो स्टूडेंट्स इंजीनियरिंग कर रहे हैं, उन्हें तब तक डिग्री नहीं दी जाएगी, जब तक वह इंटर्नशिप पूरी नहीं कर लेते। एक्सपर्ट का कहना है, इंजीनियरिंग के स्टूडेंट के लिए ये फैसला लेने का मकसद है कि उन्हें मार्केट में काम करने के लायक बनाया जाए, वे इंडस्ट्री को समझें कि वहां काम करने का तरीका कैसा है।

ऑल इंडिया काउंसिल फॉर टेक्निकल एजुकेशन के इस फैसले से प्राइवेट इंजीनियरिंग कॉलेजों के छात्रों को विशेष रूप से सहायता मिलेगी। इसे जल्द ही लागू करने की प्लानिंग चल रही है। स्टूडेंट्स को आसानी से कंपनियों में इंटर्नशिप का अवसर मिल जाए, इस पर भी विशेष ध्यान दिया जाएगा।

Next Story
Share it
Top