Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

भगवान काशी विश्वनाथ का दर्शन कर लौट रहे भिलाई के परिवार की कार दुर्घटनाग्रस्त, एक ही परिवार के चार लोगों की जान गई

तेज रफ्तार कार अनियंत्रित होकर पेड़ से टकरा गई। इससे एक ही परिवार के 4 लोगों की मौत हो गई है। हादसा उत्तर प्रदेश के झांसी-मिर्जापुर नेशनल हाइवे पर हुआ। पढ़िये पूरी खबर...

भगवान काशी विश्वनाथ का दर्शन कर लौट रहे भिलाई के परिवार की कार दुर्घटनाग्रस्त, एक ही परिवार के चार लोगों की जान गई
X

भिलाई। तेज रफ्तार कार अनियंत्रित होकर पेड़ से टकरा गई। इससे एक ही परिवार के 4 लोगों की मौत हो गई है। हादसा उत्तर प्रदेश के झांसी-मिर्जापुर नेशनल हाइवे पर हुआ। घटना की सूचना मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची। मामला उत्तर प्रदेश के बांदा जिले के गिरवां थाना क्षेत्र का है। बताया जा रहा है कि मृतक परिवार भिलाई के स्टील कालोनी नेहरू नगर निवासी है।

मिली जानकारी के अनुसार क्रास स्ट्रीट-1 स्टील कालोनी नेहरू नगर निवासी हलधर प्रसाद सिंह (45) माइनिंग इंजीनियर है। वह अपनी पत्नी वंदना सिंह और बेटी अनविका सिंह (11) के साथ भिलाई में रहते थे। मृतक का एक घर मध्यप्रदेश के छतरपुर सटई रोई मोहल्ला ग्रीन एवेन्यु में भी है। वहां पर उनकी सास चंद्रावेशन अपने परिवार के साथ रहती थीं। हलधर प्रसाद पत्नी वंदना और बेटी अनविका के साथ पहले छतरपुर गए। वहां से अपनी सास चंद्रावेशन को लेकर वाराणसी पहुंचे। वाराणसी में हलधर प्रसाद का पैतृक गांव है। वहां पर वे अपनी मां से मिले और काशी विश्वनाथ मंदिर से दर्शन किया। इसके बाद उन्होंने अपनी मां व पिता को ट्रेन से भिलाई के लिए रवाना किया और खुद अपने परिवार के साथ अपनी कार क्रमांक सीजी-07 एमए 6309 से वापस छतरपुर के लिए निकले। वे छतरपुर में अपनी सास चंद्रावेशन को छोड़कर वापस भिलाई लौटने वाले थे। इसके पहले झांसी-मिर्जापुर नेशनल हाइवे पर हादसे का शिकार हो गए। पुलिस ने बताया कि कार अनियंत्रित होकर सड़क किनारे स्थित पेड़ से टकरा गई। कार की गति इतनी ज्यादा तेज थी कि कार के परखच्चे उड़ गए। हादसे में हलधर प्रसाद सिंह, उनकी पत्नी वंदना और सास चंद्रावेशन की मौके पर ही मौत हो। वहीं बेटी अनविका ने अस्पताल में दम तोड़ दिया।

और पढ़ें
Next Story