Top
Hari bhoomi hindi news chhattisgarh

सायबर क्रिमिनल से परेशान जगदलपुर का एक परिवार, कई सूचनाओं के बावजूद पुलिस की कार्रवाई सिफर

आरोपी +923332961999, +923332901555, +923048587682, +923303439010, +923493833730 नंबरों से व्हाट्सअप मैसेज भेज रहा है। वह अभी भी यही मैसेज भेज रहा है कि 5 फरवरी को वह पीड़ित परिवार को बदनाम कर देगा, उसका कोई कुछ नहीं कर सकता। पढ़िए पूरी खबर-

सायबर क्रिमिनल से परेशान जगदलपुर का एक परिवार, कई सूचनाओं के बावजूद पुलिस की कार्रवाई सिफर
X

जगदलपुर। जगदलपुर का एक परिवार किसी अज्ञात सायबर क्रिमिनल से इस कदर परेशान है कि पूरे परिवार का जीना मुहाल हो गया है। अज्ञात आरोपी धमकी दे रहा है कि अगर उसके मनमाफिक बातचीत मोबाइल पर नहीं की गई, तो 5 फरवरी को वो ऐसा करने वाला है, जिसकी किसी ने कल्पना भी नहीं की होगी। इस मामले की शिकायत बाकायदा जगदलपुर कोतवाली पुलिस में दर्ज है। पुलिस का कहना है कि मामले में कार्रवाई जारी है, लेकिन मौजूदा हालात ये हैं कि न तो आरोपी को पकड़ा जा सका, न पीड़ित पक्ष को कोई राहत मिली है। अब भी उसकी धमकियां बराबर जारी है। आरोपी नंबर बदल-बदलकर परिवार को धमकी दे रहा है। आपत्तिजनक मैसेजेस पूरे परिवार को भेज रहा है।

घटना के संबंध में जानकारी मिली है कि लगभग 3 साल पहले जगदलपुर की एक महिला की दोस्ती फेसबुक पर एक युवक से हुई। युवक ने बातों में उलझाकर महिला से ईमेल आईडी और पासवर्ड ले लिए। ईमेल के जरिए युवक ने सारे कांटेक्ट नंबर हासिल कर लिए। महिला को ब्लैकमेल करते हुए उसने परिवार, परिचितों को महिला के बारे में आपत्तिजनक मैसेजेस भेजना शुरू कर दिया। परेशान महिला ने अपने पति से सारी बातें शेयर कीं।

पीड़ित पक्ष के अनुसार, इसकी पहली सूचना कोतवाली पुलिस को 30 दिसंबर 2020 को दी गई, लेकिन न तो कोई कार्रवाई हुई, न वह युवक पकड़ा गया, न ही पीड़ित परिवार को कोई राहत मिली। वह बराबर मोबाइल और सोशल मीडिया में महिला और उसके परिजनों को धमकी-चमकी देता रहा। पीड़ित परिवार ने 5 जनवरी 2020 को सीधे एसपी को इसकी लिखित शिकायत की। लेकिन इसके बावजूद, न तो युवक पकड़ा गया, न पीड़ित परिवार को समस्या से निजात मिली। बार-बार थाने के चक्कर लगाने और पुलिस अफसरों से मिन्नतों के बाद गत 1 फरवरी को कोतवाली थाने में शाम 6.15 बजे आरोपी के खिलाफ एफआईआर नंबर-0045/21, धाराएं- 294-IPC, 506-IPC, 509(ख)-IPC, आईटी एक्ट की धारा 67(A) दर्ज कर ली गई। लेकिन, इतना सब-कुछ होने के बावजूद, न तो वह अज्ञात क्रिमिनल पकड़ा गया, न पीड़ित परिवार को कोई राहत मिल रही है। अज्ञात आरोपी नंबर बदल-बदलकर धमकी दे रहा है कि यदि घर की महिला से उसकी बात नहीं कराई गई, तो 5 फरवरी को सोशल मीडिया में वह पूरे परिवार को यूं बदनाम करेगा, कि पूरा परिवार मुंह दिखाने लायक नहीं रहेगा। वह आरोपी न केवल परिजनों को गाली-गलौज दे रहा है, बल्कि उसे समझाने वालों को भी अश्लील गालियां और धमकी दे रहा है। पीड़ित पक्ष के अनुसार, आरोपी +923332961999, +923332901555, +923048587682, +923303439010, +923493833730 नंबरों से व्हाट्सअप मैसेज भेज रहा है। वह अभी भी यही मैसेज भेज रहा है कि 5 फरवरी को वह पीड़ित परिवार को बदनाम कर देगा, उसका कोई कुछ नहीं कर सकता।

इस संबंध में जगदलपुर के सीएसपी हेमसागर सिदार से जब बातचीत की गई, तो उन्होंने यह जरूर कहा कि पीड़ित परिवार की रिपोर्ट थाने में दर्ज करने के बाद कार्रवाई की जाएगी। लेकिन, अभी तक पीड़ित परिवार को कोई राहत नहीं मिली है। पीड़ित परिवार ने अपनी समस्या छत्तीसगढ़ राज्य महिला आयोग की अध्यक्ष डॉ. किरणमयी नायक को भी इस संबंध में सूचना देकर कार्रवाई की मांग की है, लेकिन अभी तक युवक के पकड़े जाने अथवा पीड़ित परिवार को राहत मिलने की खबर नहीं है।

Next Story